चमोली: राज्यसभा में बोले गृह मंत्री, 7 फरवरी 2021 के उपग्रह डाटा के अनुसार…

Home Minister Amit Shah
image source - google

उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने के बाद मची तबाही से अभी तक कितना नुकसान हुआ है ये नहीं पता लग आया है। अभी भी रहत और बचाव कार्य जारी है।

जानकारी के अनुसार 93 श्रमिक अभी लापता हैं और 49 लोग अभी भी सुरंग में फंसे हुए हैं। अब तक कुल 29 शव बरामद हो चुके हैं। वायु सेना और NDRF के टीमें रहत और बचाव कार्य में लगी हुई है। JCB के द्वारा टनल को साफ़ किया जा रहा है।

राज्यसभा में बोले गृह मंत्री

राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 7 फरवरी 2021 के उपग्रह डाटा के अनुसार ऋषि गंगा नदी के जलग्रहण क्षेत्र में समुद्र तल से 5600 मीटर ऊपर ग्लेशियर के मुहाने पर हिमस्खलन हुआ जो लगभग 14 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र जितना बड़ा था। जिससे ऋषि गंगा नदी के निचले क्षेत्र में फ्लैश फ्लड की स्थिति बन गई।

गुलाम नबी की संसद से विदाई पर भावुक हुए पीएम, बतायी वो बातें जिनसे सब थे अनजान

टनल में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए रातभर के अथक प्रयास के बाद सेना ने टनल के मुंह पर पड़े मलबे को साफ कर लिया है, हमारे लोग काफी अंदर तक गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here