14 August विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाया जायेगा, पीएम ने बताई वजह

Prime Minister Narendra Modi will address the nation today
image source - google

आज का दिन इतिहास में निर्दोष लोगों के आंसुओं और खून से लिखा गया है। 14 August 1947 को भारत और पाकिस्तान का विभाजन हुआ और दोनों को एक पृथक राष्ट्र घोषित कर दिया गया। इस बंटवारे के साथ ही लोगों का, परिवारों का और लोगों की भावनाओं का बंटवारा हो गया।

इसी पर पीएम ने कहा कि देश के बंटवारे के दर्द को कभी भुलाया नहीं जा सकता। नफ़रत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा और अपनी जान तक गंवानी पड़ी। उनके संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर पर मनाने का निर्णय लिया गया है।

यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के ज़हर को ख़त्म करने के लिए न केवल प्रेरित करेगा, बल्कि इससे एकता, सामाजिक सद्भाव और मानवीय संवेदनाएं भी मजबूत होंगी।

तालिबान प्रवक्ता ने अफ़ग़ानिस्तान में भारतीय लोगों को लेकर किया बड़ा वादा

मालूम हो 14 अगस्त को भारत-पाकिस्तान का ही नहीं आज के बांग्लादेश का भी बना था। उस समय इसे पूर्वी पाकिस्तान के नाम से जाना जाता था। इसके बाद वहां के लोगों ने अपने देश के लिए युद्ध लड़ा। जिसमें भारत ने भी अहम् भूमिका निभाई। जिसके बाद 1971 में बांग्लादेश बना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here