सीतापुर: दुधमुंहे बच्चे के इलाज के लिए दर- दर भटक रहा एक पिता

सीतापुर। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश की स्वास्थ सेवाओं को लाख सुधारने का प्रयास कर रहे हैं।लेकिन स्वास्थ विभाग में मौजूद डॉक्टरों की लापरवाही लगातार सामने आ रही है।ऐसा ही एक मामला सीतापुर से सामने आया है,जहाँ कोरोना काल के चलते समस्त जिला अस्पतालों को कोविड सेंटर बनाया जा चुका है और बचे हुए जिला अस्पतालों में डॉक्टरों की लपरवाही जारी है।सीतापुर जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने एक मासूम दुधमुंहे बच्चे का इलाज तक नहीं किया।

इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला वाक्या सीतापुर के जिला अस्पताल से सामने आया है,जहाँ अनीस नामक युवक अपने दो दिन के बीमार दुधमुंहे बच्चे को लेकर पहुचा था जिला अस्तपाल जहाँ पर किसी भी डॉक्टर ने न तो बच्चे का इलाज किया और न ही उसे देखने आये और अनीस नामक व्यक्ति अपनी बच्चे को बिला इलाज के घर लौटना पड़ा।इतना ही नहीं उस बच्चे की माँ को एक दिन पहले ही अस्पताल से वापस कर दिया गया था।10 किलोमीटर एक पिता अपने बच्चे को एक हाथ मे साइकिल और एक हाथ मे मासूम बच्चे को लेकर अस्पताल के चक्कर लगता रहा। लेकिन किसी को भी उसपर तरस नहीं आया।

रिपोर्ट-अबरार अहमद

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − seven =