FCS : प्राप्त करें UP राशन कार्ड से सम्बंधित सारी जानकारी

Food and Civil Supplies
google

FCS : दोस्तों FSC राशन कार्ड क्या है और इससे राशन कैसे प्राप्त कर सकते हैं? राशन कैसे और किसके लिए बनाए जाते हैं तथा इसके लिए आवेदन किस प्रकार किया जाता है? यह पूरी जानकारी हम आपको इस लेख में बातएंगे। दोस्तों अगर आप जानना चाहते हैं कि FCS Full Form क्या है या राशन कार्ड की लिस्ट कैसे देख सकते हैं तो उसकी भी जानकारी इस लेख में दी जाएगी। खाद्य एवं रसद विभाग यह एक बहुत ही अहम और बहुउपयोगी योजना है जो राज्य सरकार द्वारा खास तोर पर गरीब लोगों के लिए चलाई गई है यानि यह एक सरकारी योजना है।

आप लोग यह तो जानते ही होंगे कि केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली करीब सभी सरकारी योजनाओं के साथ साथ राज्य सरकार द्वारा चलाई जाने वाली लगभग सभी सरकारी योजनाएं भी ऑनलाइन हो चुकी हैं। पहले सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए आप सभी लोगों को घंटों लाइन में लगना पडता था लेकिन अब ऑनलाइन हो जाने से हर चीज़ बहुत आसान हो गई है और लाइन में भी लगने की ज़रूरत नहीं पड़ती है। तो दोस्तों आइये FCS के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

जानिये क्या है FCS ?

दोस्तों FCS राज्य सरकार द्वारा चलाई गई सरकारी योजना है जिसे खाद्य एवं रसद विभाग कहा जाता है। इस योजना से सभी ग्रामीण तथा शहरी इलाके के लोग दाल, चावल, गेंहूं आदि काफी सस्ती दरों में खरीद सकते हैं। FCS के अंतर्गत बनाया जाने वाला UP Rashan Card एक प्रकार का I-Card भी होता है जिसे आप कई सरकारी जगहों पर इस्तेमाल भी कर सकते हैं और आवेदन भी कर सकते हैं। FCS एक ऐसी योजना है जो केंद्र तथा राज्य दोनों सरकारों द्वारा चलाई जाती है और नागरिक सस्ती दरों पर अनाज प्राप्त करते हैं।

IGRSUP 2020 : जाने कैसे करें ऑनलाइन संपत्ति पंजीकरण

दोस्तों मै आपको बता देना चाहता हूँ कि यह योजना काफी पुरानी हो चुकी है और शायद यह योजना स्वतंत्रता के पहले से भारत में चलाई जा रही है। FCS का मुख्य उद्देश्य कार्यालय प्रांगण में सरकारी गृह स्थापित करवा कर भारत के नागरिकों को कम कीमतों में अनाज उपलब्ध कराना है।

क्या है FCS Full Form ?

FCS योजना के अंतर्गत राज्य के लोगों को अनाज के अलावा बीज, तेल तथा किसानों से जुडी हुई बहुत सी चीज़ें प्रदान की जाती हैं। सवाल उठता है कि आखिर FCS Full Form क्या होती है? तो दोस्तों इसका पूरा नाम ‘Food and Civil Supplies’ है जिसे हिंदी में ‘खाद्य और नागरिक आपूर्ति’ कहा जाता है। इस योजना का एक और मुख्य उद्देश्य है और वह ब्लैक मार्केटिंग को रोकना है तथा सरकार द्वारा तय की गई कीमतों में लोगों को वस्तुएं उपलब्ध कराना है।

साल 1965 में उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी कल्याण निगम स्थापित किया गया था जो सोसाइटी रजिस्ट्रेशन एक्ट 1860 के अधीन है। आपको बता दें कि सरकारी जलपान गृह पर प्रबंधक व सरकारी कर्मचारी कार्यरत हैं और निगम मुख्यालय पर अधिशासी निदेशक, उप निदेशक, संयुक्त निदेशक, वित्त तथा लेखाधिकारी समेत डिपोज़ स्टार पर प्रबंधक और अन्य लोग काम करते हैं।

FCS के प्रकार

FCS राष्ट्र खाद्य सुरक्षा नियम (National Food Security Act) के आधीन है और देश के सभी राज्यों की सरकार को पहले ऐसे परिवार खोजने होते हैं जो इस नियम के तहत आते हैं। इन परिवारों को खोजने के बाद पब्लिक डिट्रिब्यूशन सिस्टम के ज़रिये अनाज को सब्सिडी के दाम (सामान्य दाम से कम) में चुने हुए परिवारों तक पहुँचाया जाता है और साथ ही Rashan Cards भी पहुंचाए जाते हैं। NFSA के अंतर्गत यह निम्नलिखित दो प्रकार के होते हैं।

  1. Priority Rashan Card

NFSA के अंतर्गत आने वाला यह कार्ड राज्य सरकार द्वारा तय किये गए उन परिवारों को दिए जाते हैं जो eligible criteria के तहत आते हैं। इस प्रकार के परिवारों को सदस्यों की संख्या के हिसाब से हर महीने 5 किलो प्रति सदस्य अनाज प्रदान किया जाता है।

  1. Antyodaya (AAY) Rashan Cars

यह कार्ड बहुत ज़्यादा गरीब लोगों को दिए जाते हैं। अंत्योदय कार्ड के अंतर्गत आने वाले परिवार वालों को 35 किलो अनाज उपलब्ध कराया जाता है।

इससे पहले जब खाद्य सुरक्षा नियम (NFSA) लागू नहीं हुआ था तब मुख्यतः तीन प्रकार के कार्ड लागू किये जाते थे।

UP Scholarship : प्राप्त करें छात्रवृत्ति योजना से सम्बंधित सारी जानकारी

  1. Above Poverty Line (APL) Rashan Card

Family Income Planning Commission के द्वारा तय सीमा से अधिक आय वाले परिवार अर्थात जो परिवार गरीबी रेखा से ऊपर (Above Poverty Line) होते हैं यह कार्ड उनको प्रदान किये जाते थे। ऐसे परिवारों को 15 किलो तक का अनाज मुहैया कराया जाता था।

  1. Below Poverty Line (BPL) Rashan Card

यह कार्ड गरीबी रेखा से नीचे (Below Poverty Line) गुज़र बसर करने वाले परिवारों को प्रदान किया जाता था। ऐसे परिवारों को 25 किलो से 35 किलो तक का अनाज मुहैया कराया जाता था।

  1. Antyodaya (AAY) Rashan Card

यह कार्ड उन परिवार वालों को प्रदान किये जाते थे जो बहुत ही ज़्यादा गरीब होते थे और बाज़ार से कुछ भी खरीदने में असामर्थ्य होते थे। ऐसे परिवारों को 35 किलो तक का अनाज मुहैया कराया जाता था।

कैसे खोजें FCS Rashan Card List ?

राज्य के किसी भी हिस्से में आप रह रहे हैं और FCS सूचि देखना चाहते हैं तो परेशान होने की कोई ज़रूरत नहीं है। अगर आपके पास स्मार्ट फोन है और उसपर इंटरनेट की सेवा उपलब्ध है तो ऑनलाइन जाकर आप आराम से कहीं भी FCS की सूचि देख सकते हैं। राज्य में ऐसे बहुत से लोग रहते हैं जो नहीं जानते कि FCS की सूचि किस प्रकार देख सकते हैं तो आपको बता दूँ कि जिन लोगों ने हाल ही में आवेदन किया है या बहुत पहले कभी किया था तो ऑनलाइन जाकर आप अपना नाम देख सकते हैं कि सूचि में आपका नाम है या नहीं है। जिन लोगों का नाम सूचि में होगा उनको सरकारी दुकानों पर सस्ते दाम में अनाज प्रदान किया जाएगा। सूचि में अपना नाम देखने के लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा।

  • FCS की सूचि देखने के लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट fcs.up.gov.in पर जाना होगा
  • इसके बाद आप NFSC की पात्रता सूची को क्लिक करें
  • यहाँ पर आपको राज्य के सभी ज़िलों की सूची नज़र आएगी
  • इसपर आपको अपने ज़िले का चयन करना होगा
  • इसके बाद आपको टाउन/तहसील का चयन करना होगा
  • फिर आपको अपने क्षेत्र का नाम देख कर क्लिक करना होगा
  • अब आपको FCS की सूचि दिखेगी
  • इसके बाद आपको नए पेज पर उस क्षेत्र की सस्ती राशन की दुकान के दूनानदारों के नाम दिखाई देंगे और सबके आगे उस दुकान के अंतर्गत आने वाले कार्डों को FCS राशन कार्ड संख्या दिखाई देगी
  • यदि आपको दुकानदार का नाम पता यह तो उसके आगे दिखने वाली FCS राशन कार्ड संख्या पर क्लिक करें
  • अब आप को उस क्षेत्र के सभी FCS राशन कार्ड धारकों की सूची दिखेगी
  • इस FCS सूची में आप अपना नाम आसानी से देख सकते हैं

FCS के लिए आवश्यक दस्तावेज़

राशन कार्ड के लिए आवेदन करते समय निम्नलिखित दस्तावेज़ों की ज़रूरत पड़ती है

  • बिजली का बिल
  • पानी का बिल
  • रसोई गैस कनेक्शन का बिल
  • पासपोर्ट
  • वोटर आईडी
  • आधार कार्ड
  • बैंक की पासबुक
  • घर की रजिस्ट्री
  • अगर अपना घर नहीं है तो रेंटल एग्रीमेंट

Bhu naksha up : उत्तर प्रदेश भू नक़्शे की ऑनलाइन प्रतिलिपि

इसके अलावा भी आप निम्नलिखित दस्तावेज़ प्रदान कर सकते हैं

  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • हाई स्कूल का अंकपत्र जिसपर जन्मतिथि दी गई है

FCS के लिए कैसे करें ऑनलाइन आवेदन

FCS में आवेदन करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें

  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट fcs.up.gov.in पर जाना होगा
  • इसके बाद आपको सही भाषा चुनना होगा
  • फिर आपके सामने एक फॉर्म खुल कर आएगा जहाँ आपको अपनी साड़ी जानकारी सही से भरना है
  • अब आपको FCS राशन कार्ड का प्रकार चुनना है
  • इसके बाद आगे पूरी जानकारी भरना होगा जैसे आधार नंबर आदि
  • पूरा फार्म भरने के बाद सब्मिट पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आप फॉर्म का प्रिंट निकाल लीजिये
  • वेरिफिकेशन के बाद आपका राशन कार्ड घर भेज दिया जाएगा

FCS के लिए कैसे करें ऑफलाइन आवेदन

अगर आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो निम्नलिखित चरणों का पालन करें

  • हर शहर में FCS राशन कार्ड का फॉर्म मिलता है जहाँ आप शुल्क देकर फॉर्म प्राप्त कर सकते हैं
  • गरीबी रेखा से नीचे वालों के लिए फॉर्म मुफ्त उपलब्ध होगा
  • FCS राशन कार्ड का फॉर्म आधिकारिक वेबसाइट पर भी उपलब्ध है जहाँ से डाउनलोड किया जा सकता है
  • फॉर्म को भर के जमा करने से पहले उसपर 3 परपोर्ट अकार के फोटो लगाना होगा
  • किसी उच्च अधिकारी द्वारा फॉर्म अटेस्टेड करवाना होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here