जाने क्यों कोरोना‌ साइंटिस्ट चीन छोड़कर भागी, कोरोनावायरस को लेकर खोला राज

Scientist li meng yan

हांगकांग के स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में वायरोलॉजी और इम्यूनोलॉजी की एक्सपर्ट साइंटिस्ट डॉ. ली मेंग यान ने कोरोनावायरस को लेकर बड़ा खुलासा किया है। अमेरिकन न्यूज़ चैनल फॉक्स से बात करते हुए उन्होंने कहा कि वह हांगकांग से अमेरिका अपनी जान बचाकर बड़ी मुश्किल से आई है।

साइंटिस्ट ने बताया कि जब चीन ने दुनिया को कोरोनावायरस के बारे में जानकारी दी तो उससे बहुत पहले से चीन को इस वायरस और उससे जुड़े खतरे के बारे में पता था। मेरी रिसर्च को भी उन्होंने नजर अंदाज किया। जिससे लोगों की जिंदगियां बच सकती थी। मुझे चुप रहने के लिए कहा गया। जब मुझे खतरा महसूस हुआ। तब मैं अप्रैल 2020 में छुपते हुए हांगकांग से अमेरिका आ गई।

साइंटिस्ट डॉ. ली मेंग यान को डर था कि यदि वे पकड़ी गई तो उनको गायब करवा दिया जाएगा या जेल में डाल दिया जाएगा। साइंटिस्ट ने बताया कि अभी भी चीनी सरकार उनकी प्रतिष्ठा को खत्म करने के लिए साइबर अटैक करा रही है। साइंटिस्ट को अभी भी अपनी जिंदगी का खतरा महसूस हो रहा है। इसलिए वे अज्ञात जगह पर हैं।

बढ़ी चीन की मुश्किलें

मालूम हो दुनियाभर के देश कोरोनावायरस की उत्पत्ति को लेकर जांच की मांग कर रहे हैं। इस बीच डब्ल्यूएचओ की टीम चीन जाकर जांच करने का फैसला किया है। यह फैसला इतनी देर में इसलिए लिया गया क्योंकि चीन ने अभी तक जांच करने की अनुमति नहीं दी थी। लेकिन अंतरराष्ट्रीय दबाव होने की वजह से चीन ने अनुमति दी है। जिसके बाद अब डब्ल्यूएचओ इस मामले की जांच करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here