पुलिस को मिली बड़ी सफलता, नकली शराब बनाने वाली फैक्ट्री का किया खुलासा

Fake Liquor Store
Fake Liquor Store

रायबरेली के गुरुबख्शगंज थाना पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। होने वाले पंचायती चुनाव व होली के त्योहार को लेकर पुलिस ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया। जहां आज नकली शराब बनाने वाली फैक्ट्री का खुलासा हुआ है।

मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने थाना क्षेत्र के भवानीबख़्श का पुरवा गांव के पास बने पोल्ट्री फार्म से दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया और उनकी निशानदेही पर नकली शराब बनाने के लिए प्रयुक्त होने वाली प्लास्टिक की शीशियां, रैपर,ढक्कन व ड्रम बरामद किए। इस बीच मौके का फायदा उठाकर चार आरोपी भागने में सफल हो गए जिनकी तलाश की जा रही है। जहां पुलिस ने अभिषेक व धर्मेंद्र नाम के शख्स को  गिरफ्तार किया है।

वहीं गुरुबख्शगंज पुलिस व आबकारी की टीम ने मुखबिर की सूचना पर भवानीबख़्श का पुरवा गांव के ओएस बने एक पोल्ट्री फार्म से पकड़ा है। इन दोनों के ओएस से नकली शराब बनाने के लाखों के सामान का जखीरा बरामद हुआ है।इन दोनों के पास से 26000 ढक्कन, 14000 नकली लेबल, 9000 क्यू आर,8600 नकली प्लास्टिक की शीशी,15 खाली ड्रम, एक पानी की टंकी,13 वाटर जार व एक मारुति कार बरामद हुआ है।

इन सबका प्लान था कि इस शराब को बनाकर पंचायत चुनाव में बेचना है।लेकिन पुलिस व आबकारी की टीम ने इनके मंसूबो पर पानी फेर दिया।फ़िल्हाल इन दोनों के चार साथी सुशील,उमेश,चाइना व विनीत पुलिस को चकमा देकर मौके से फरार हो गए।जिनकी तलाश में पुलिस जुटी है।

झोला छाप डॉक्टर ने ली एक महिला की जान, इस तरह की पूरे मामले को दबाने की कोशिश

मामले का खुलासा करने वाली टीम को रायबरेली पुलिस अधीक्षक  के द्वारा 10 हजार का नकद ईनाम देने की घोषणा की है।फिलहाल इस खुलासे से पुलिस ने राहत की सांस ली है।उनकी माने तो इस नकली शराब के बिकने के बाद कोई बड़ा हादसा हो सकता था। फरार चल रहे अन्य साथियों की गिरफ्तारी जल्दी कर ली जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here