सीमा पर जवानों की शहादत पर विपक्ष ने सरकार से मांगा जवाब

india china border dispute
image source - google

कल सोमवार को रात में गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई। जिसमें भारतीय सेना के एक ऑफिसर और 2 जवान शहीद हो गए हैं। वहीं चीन की सेना को भी भारत से ज्यादा नुकसान हुआ है। इस झड़प में चीन के भी 5 सैनिक मारे गए हैं। इस झड़प के बाद से ही दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है और रक्षा मंत्री ने सेना प्रमुख के साथ बैठक की है।

इस खबर के सामने आने के बाद अब विपक्ष ने सवाल खड़े किए हैं और केंद्र सरकार से स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा की “गलवान वैली, लद्दाख से चीनी मुठभेड़ में हमारे कमांडिंग ऑफिसर और दो सैनिकों की शहादत का समाचार मिला है. भावपूर्ण नमन. सरकार से इन हालातों में भारत चीन सीमा पर वास्तविक स्थिति के स्पष्टीकरण की अपेक्षा है।”

वहीं एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने भी केंद्र सरकार से सवाल पूछा है। वैसे ने ट्वीट कर कहां की अगर यह हुआ है तो सरकार को तुरंत सफाई देनी चाहिए और देश को मामले की सच्चाई बताना चाहिए।

मालूम हो पिछले 2 महीनों से लद्दाख में सीमा को लेकर दोनों देशों के बीच काफी तनाव था् जिसे खत्म करने के लिए कमांडिंग लेवल की बैठक की जा रही थी। लेकिन कल दोनों पक्षों में हुई झड़प की वजह से तनाव और बढ़ गया है। आज मंगलवार को चीन ने फिर बातचीत करके मामले को हल करने की पेशकश की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here