UP : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा के खिलाफ दिया बयान कहा..

Source - Google

UP : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार को बारिश में हुई असुविधा को लेकर जमकर घेरा, वहीं भाजपा के खिलाफ बयान दिया कहा मुझे भरोसा है अब ये सरकार जाने वाली है इस सरकार का सफाया होगा। इस सरकार में हर वर्ग के लोग अपमानित हुए। इस सरकार में सबसे ज्यादा झूठ बोला गया है।

झूठ का प्रशिक्षण केंद्र चला रही है सरकार, जनता के बीच में अफवाह फैलाई जा रही है। सभी को भगवान विश्वकर्मा जयंती की बहुत बधाई। पूर्व एमएलसी रामाश्रेय विश्वकर्मा समेत सभी लोगों को धन्यवाद, कई सालों के बाद इतनी भयानक बारिश हुई लखनऊ में उसके बाद भी सभी लोग आए सबका धन्यवाद। कल बारिश में लोगों की जान गई है सरकार को इतने सालों में को इंतजाम करना था।

एक ही बारिश में पता चल गया कि उनका कोई इंतजाम नहीं था। नेताजी से लेकर आज तक सपा ने हमेशा विश्वकर्मा समाज का सम्मान किया। उनके लिए छुट्टी की गई थी लेकिन सीएम ने जो काम नहीं करते उन्हीं छुट्टी खत्म कर दी। ऐसे भगवान जिन्होंने कितनी श्रष्टि की, त्रेता युग में लंका बनाने का काम हो चाहे हनुमान जी को गदा हो और चाहे श्री कृष्ण भगवान का चक्र गुजरात द्वारिका बनाने का काम विश्वकर्मा जी ने किया।

यहां बड़े बड़े उद्योगपति बुलाए गए थे, बड़े बड़े वादे किए थे लेकिन उतना पैसा यूपी में नही आया। सिर्फ कागजों पर है जमीन पर नहीं दिखाई देता, न काम करने वाले मुख्यमंत्री ने छुट्टी खत्म कर दी कोई बड़ा काम नहीं किया। अभी तक सरकार ने सिर्फ नाम बदलने का काम किया है। लोगों को सपना दिखाया, 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाएंगे। मुख्यमंत्री ने और बड़ा झूठ बोला की इसमें भागीदारी 1 ट्रिलियन डॉलर की यूपी की होगी। ऐसे मुख्यमंत्री हैं जो लैपटॉप ही नहीं चला पाते हैं इसीलिए बांटे नहीं, कोरोना के बहाने सबका कारोबार बंद हो गया।

UP : रिश्तेदार पर नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म और अश्लील वीडियो बनाने का आरोप

अर्थव्यवस्था चौपट हो गई अब पटरी पर आ रही है जिसमे सरकार का कोई योगदान नहीं है। आम लोगों का योगदान है, ये दुनिया से बराबरी करना चाहते हैं। जब मुसीबत आई तो ये सरकार बड़े लोगों के साथ खड़ी रही उनके लिए जहाज चल जाता है लेकिन मजदूरों के लिए कोई व्यवस्था नहीं हुई उनकी जान चली गई। अगर सरकार सही तैयारी करती तो तमाम लोगों की जान बचाई जा सकती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here