नही रहे महान कथक नतर्क पंडित बिरजू महाराज, 83 साल की उम्र में निधन

source-google

कथक नर्तक बिरजू महाराज का आज देहांत हो गया है। वे 83 साल के थे, हार्ट अटैक के बाद रविवार देर रात उन्होंने दिल्ली में आखिरी सांस ली। पंडित बिरजू महाराज का असली नाम बृजमोहन मिश्रा था। उनका जन्म 4 फरवरी 1938 को लखनऊ में हुआ था। लखनऊ घराने से ताल्लुक रखने वाले बिरजू महाराज के पोते स्वरांश मिश्रा ने सोशल मीडिया के ज़रिये दी।

कथक के जरिए देश और विदेशों में अपनी अमिट छाप छोड़ चुके हैं। उनकी पोती रागिनी ने एएनआई से बात की जिसके दौरान बताया कि पिछले एक महीने से उनका इलाज चल रहा था। बीती रात उन्होंने खाना खाया और काफी पी थी। इसी बीच उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। वहां उनका इलाज किया गया पर उन्हें बचाया नहीं जा सका।

सियासी उठा पटक में सीएम योगी को भाजपा ने इस जगह से बनाया उम्मीदवार

आपको बता दे 2012 में फिल्‍म विश्वरूपम में डांस कोरियोग्राफी के लिए उन्‍हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा बाजीराव मस्तानी के ‘मोहे रंग दो लाल’ गाने की कोरियाग्राफी के लिए उन्‍हें वर्ष 2016 में फिल्मफेयर पुरस्कार मिला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here