क्या हुआ जब मेहंदी रचाये रातभर बैठी रही दुल्हन और फिर नहीं आयी बारात

bride was sitting all night making the mehndi
Jhansi

झाँसी :। एक ओर जहां दहेजप्रथा को खत्म करने के लिए तमाम कोशिशें की जा रहीं हो मगर लालची लोगो के सामने सारे प्रयास बौने साबित हो रहे हैं, ताजा मामला झाँसी के कोतवाली क्षेत्र के डडियापुरा में देखने को मिला जहाँ हाथों में मेहंदी लगाए एक दुल्हन अपने दूल्हे के इंतिजार करती रही मगर लालची दूल्हा बारात लेकर नहीं आया।

कर्ज लेकर किया था शादी का इन्तिजाम

रिश्तरदारो व मेहमानों से भरे घर में खुशियों का माहौल था। सजावट भरे घर मे खाना चल रहा था, किसी को नही पता था कि ये खुशियां पल भर की हैं क्योंकि लड़की वालों की ये खुशियां दहेज के लालची लोगों के हाथों चढ़ गयीं। बिन बाप की दुल्हन ने रोते हुए बताया कि उसके भाईयो और माँ ने कर्ज लेकर शादी का इन्तिजाम किया था। हालांकि इस पूरे मामले में एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी का कहना है कि लड़की वालों से तहरीर ले ली गयी है। जल्द ही पूरे मामले का निस्तारण किया जाएगा और दोषियों के ख़िलाफ़ कार्यवाही की जाएगी।

रोती-बिलखती दुल्हन रुखसार अब इंसाफ की गुहार लगा रही है। हाथों में मेहंदी, कलाई पे बंधा कंगन सूना रह गया। दुल्हन ने बताया कि शादी तय होने के समय राजा ( दूल्हा ) ने लगुन के नाम पर लड़की वालों से डिमांड कर पहले तो 1 लाख 11 हजार रुपए लिए उसके बाद 17 दिसंबर को बारात लाने की एवज में 3 लाख रुपए की और डिमांड करने लगे। लड़की के घर वालो ने बारात लाने की काफ़ी गुजारिश कि लेकिन लड़के वाले लगातार पैसों की डिमांड करते रहे। देर रात तक बारात न आने के बाद और लगातार फोन करने के बाद भी लड़के वालों की तरफ से कोई जबाब नही आया तो लड़की के भाई और रिश्तरदार लड़के वालों के घर पहुँचे तो उनके घर पर ताला लटका हुआ था और पूरा घर गायब था। ये देख सब दंग रह गए।

रिपोर्ट:-मो. तौसीफ़…

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here