राम जन्मभूमि परिसर में समतलीकरण करने के दौरान मिली खंडित मूर्तियां और स्तंभ

Remains of Ram temple

लॉक डाउन में मिली छूट के अनुसार देश में कई दिनों से रुका निर्माण कार्य एक बार फिर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कार्य भी शुरू किया गया और जमीन का समतलीकरण करते समय खुदाई में कई मूर्तियां, शिवलिंग और देवी देवताओं की कलाकृतियों वाले स्तंभ मिले हैं।

इसको लेकर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा की 11 मई से श्री राम जन्मभूमि परिसर में भूमि के समतलीकरण और गैंगवे हटाने का कार्य प्रशासन की अनुमति के पश्चात शुरू किया गया था। कार्य के दौरान सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन किया जा रहा है। राम जन्मभूमि परिसर में खुदाई के दौरान 6 रेड सेंड स्टोन, 7 ब्लैक टच स्टोन, देवी देवताओं की मूर्तियां और एक 5 फीट का शिवलिंग, आमलक कलश, पुष्प प्राप्त हुआ है।

राम जन्मभूमि परिसर में समतलीकरण के कार्य में इस समय 3 जेसीबी 1 क्रेन, 2 ट्रैक्टर और 10 मजदूर लगे हैं। कोरोना संकट को देखते हुए सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए कार्य किया जा रहा है और अभी तक परिसर में जहां भी खुदाई की गई है, वहां पर मंदिर के अवशेष मिल रहे हैं।

मालूम हो 9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला देते हुए विवादित जमीन को मंदिर पक्ष को देने का फैसला किया था। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट बनाने का ऐलान किया था। यह ट्रस्ट मंदिर से जुड़े हुए कार्य और निर्माण कार्य सब देखेगा और पूरी तरह से स्वतंत्र होकर काम कर सकेगा। इसमें सरकार का कोई दखल नहीं होगा। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का एकमात्र दफ्तर दिल्ली में है और दूसरा जल्द ही अयोध्या में बनने वाला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here