अरब दौरे से स्वदेश लौटे पीएम मोदी, कई अहम मुद्दों पर हुए हस्ताक्षर

प्रधानमंत्री मोदी अरब की दो दिवसीय यात्रा पूरी कर भारत लौट आए। अपने इस दो दिवसीय दौरे में प्रधानमंत्री मोदी ने रियाद में फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशियेटिव (FII) को संबोधित किया। इस दौरे के दौरान दोनों देशों के बीच आपसी संबंधों को और मजबूत करने के लिए कई समझौतो पर हस्ताक्षर हुए। रक्षा एवं नागर विमानन तेल और गैस समेत ऐसे अनेको समझौतों पर इस दौरान हस्ताक्षर किए गए है।

भारत और अरब ने कई मुद्दों पर चर्चा की। इनके नेताओं ने आतंकवाद से निजात पाने के लिए आपसी सुरक्षा सहयोग बढ़ाने पर भी अपनी स्वीकृति दी है। रियाद के मंच से प्रधानमंत्री मोदी दुनिया को ये समझाने में सफल हुए कि निवेश के लिए सबसे मजबूत उभरते बाजार के तौर पर भारत के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है।

सऊदी किंग के आमंत्रण पर पीएम पहुंचे सऊदी अरब

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट के जरिये बताया कि ,‘‘द्विपक्षीय संबंधों में उल्लेखनीय प्रगति के साथ रवाना हो रहे हैं। भारत और सऊदी अरब के बीच संबंधों को आगे बढ़ाने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रियाद से रवाना।’’ मोदी ने यहां ‘फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशिएटिव’ को भी संबोधित किया।

भारत और अरब के बीच हुए अहम समझौते-

  • दोनों देशों के बीच ई-माइग्रेशन सिस्टम शुरू करने का एग्रीमेंट
  • रक्षा उद्योग में सहयोग बढ़ाना और सुरक्षा में सहयोग बढ़ाना
  • इस साल के अंत तक दोनों देशों के बीच पहला संयुक्त नेवी अभ्यास
  • महाराष्ट्र के रायगढ़ में सऊदी अरामको, यूएई की अबु धाबी नेशनल ऑयल व भारतीय सार्वजनिक तेल कंपनियों की संयुक्त रिफाइनरी लगाना
  • इंडियन ऑयल मिडिल ईस्ट और सऊदी कंपनी अल जेरी के बीच एमओयू
  • नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग को लेकर दोनों देशों में एमओयू
  • दोनों देशों के बीच नागरिक उड़ानों की संख्या बढ़ाने को लेकर समझौता
  • दवा निर्यात को नियमित करना और नशीली दवाओं रोकने में सहयोग को लेकर समझौता