गोंडा: वाहन इंश्योरेंस करवाने के बाद भी नहीं मिला पीड़ित को क्लेम

gonda news
gonda news

गोंडा। यूपी के गोंडा जिले से वाहन फर्जी इंश्योरेंस बीमा का मामला सामने आया है।जहाँ पीड़ित ने अपर पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देकर पूरे मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की गुहार लगाई है।

जाने क्या है पूरा मामला

मामला फर्जी इंश्योरेंस बीमा से जुड़ा हुआ है। लॉकडाउन के दौरान पिकअप वाहन के मालिक ने 18650 रुपए अपने ड्राइवर को बीमा का रिनिवल करवाने के लिये दिया था और ड्राइवर ने रिन्यूअल की कॉपी लाकर अपने वाहन मालिक को दी और सब कुछ सही चल रहा था लेकिन 21 सितंबर को जब अयोध्या से पिक अप में दूर जाकर लोग पूर्णा आ रहे थे तभी एक अज्ञात वाहन की चपेट में आने से पिकअप के परखच्चे उड़ गए और ड्राइवर गंभीर रूप से घायल हो गया।

Shiv Prasad Awasthi-Pickup Owner
Shiv Prasad Awasthi-Pickup Owner

जब गाड़ी टाटा मोटर्स अयोध्या पहुंचाया गया तो गाड़ी के इंश्योरेंस के लिए वित्त बीमा कंपनी नेशनल इंश्योरेंस के सरवेयर को फोन करके इसकी सूचना दी गई तो बीमा कंपनी ने बीमा इनेबल को फर्जी बता दिया इसके बाद से ही ड्राइवर अपना फोन स्विच ऑफ कर फरार चल रहा है अब पीड़ित खुद ही परेशान है कि जब बीमा हुआ नहीं तो फिर यह रिन्यूअल का पेपर कैसे मिल गया पुलिस अधीक्षक से मिलकर न्याय की गुहार लगाई। अब यह जांच पर ही पता चल पाएगा कि पूरा खेल फर्जी बीमा कंपनी का है या फिर उसमें आरटीओ विभाग का भी हाथ है।

अपर पुलिस अधीक्षक का बयान 

अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार का कहना है कि ऐसा शिकायती पत्र आया था जिसमें कोतवाली नगर पुलिस को निर्देशित कर दिया गया कि पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई करें।

रिपोर्ट- अतुल यादव

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here