दिल्ली में तीस हजारी कोर्ट में वकीलों और पुलिस में हुआ झगड़ा

शनिवार को दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में वकीलों और पुलिस वालों के बीच पार्किंग को लेकर झगड़ा हो गया और ये झगड़ा इतना बढ़ा की कई गाड़ियों में तोड़ फोड़ की गयी और जेल वैन व PCR में आग भी लगा दी गयी। जिसके बाद से अदालत परिसर का माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। इस झड़प में कई वकील घायल हुए है। उन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। साथ ही एलान किया गया है की 4 नवम्बर को जिला अदालत में कोई काम नहीं होगा। वकीलों का आरोप है की पुलिस ने फायरिंग की है। इसलिए ये फैसला लिया गया है।

दिल्ली वालों को दिल्ली में हो रही घुटन

इस मामले पर पुलिस का कहना है की वकीलों ने पुलिस की गाड़ियों में तोड़ फोड़ की और आग लगा दी थी। ये झगड़ा पार्किंग को लेकर हुआ। इस झगडे में वकीलों ने पुलिस अधिकारीयों को मारा और SHO से भी हाथापाई की है। झगड़ा बढ़ता देख अदालत परिसर में कई थानों की पुलिस को बुलाया गया। पुलिस से फायरिंग करने के बारे में पूछा गया तो पुलिस ने फायरिंग की घटना को सिरे से ख़ारिज कर दिया। 4 नवम्बर को जिला अदालतों में काम न होने का एलान समन्वय समिति के अध्यक्ष महावीर शर्मा व सेक्रेटरी जनरल धीर सिंह कासना ने किया है।