सेना ने घाटी से किया जाकिर मूसा गिरोह का खात्‍मा, ललहारी ढेर

भारतीय सेना ने कश्मीर घाटी में आतंक के आकाओं की कमर तोड़ दी है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में हुई मुठभेड़ में आतंक के मुखिया बने ललहारी को आर्मी के जवानो ने मार गिराया है। बता दे की ललहारी जाकिर मूसा के बाद घाटी में सक्रिय हुआ था। इस मुठभेड़ में उसके साथ-साथ दो अन्‍य आतंकी भी मारे गए हैं जिनकी पहचान नावीद टाक और जुनैद भट के तौर पर हुई है।

बता दें कि जाकिर मूसा अंसार गजवात उल हिंद आतंकी संगठन का सरगना था। मूसा की मौत के बाद अब्दुल हमीद ललहारी ने मूसा ग्रुप की कमान संभाल ली थी। बुधवार को जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पुलवामा जिले के त्राल में हुई मुठभेड़ के बारे में मीडिया को जानकारी दी। उन्होंने बताया की मुठभेड़ में जाकिर मूसा ग्रुप का नामो-निशान मिटा दिया गया है।

पुलवामा में आतंकियों ने दो को मारा, तलाशी शुरू

सेना ने मुठभेड़ स्थल से भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया है। उन्होंने बताया कि आतंकी स्थानीय लोगो को अपना निशाना बना रहे हैं। जैश संगठन अब हिजबुल और लश्कर के साथ मिल गया है। ये नौजवानों को भ्रमित कर रहे हैं।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि अगस्त में त्राल के ऊपरी क्षेत्र में गुज्जर समुदाय के दो लोगों को किडनैप करके मौत के घाट उतारने में इन आतंकियों का हाथ था। 5 august के बाद घाटी में सेना और आतंकियों के बीच यह छठी और दक्षिण कश्मीर में तीसरी मुठभेड़ है। इससे पहले 16 October को पुलवामा में तीन आतंकी मुठभेड़ मारे गए थे।