यस बैंक में निवेश कर सकता है एसबीआई, राणा कपूर से ईडी कर रही पूछताछ

yes bank
image source - google

यस बैंक इस समय आर्थिक संकट से गुजर रहा है,जिसकी वजह से जमाकर्ता चिंतित है। ईडी ने बैंक के संस्थापक और पूर्व सीईओ राणा कपूर के खिलाफ मनी लांड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। कल ईडी ने राणा के घर और कई जगहों पर छापेमारी की थी। जिसमे कहा जा रहा है की कई सबूत हाथ लगे है, उसके बाद ही केस दर्ज किया गया है। शुक्रवार को राणा के घर पर पूछताछ हुई थी और आज ईडी के दफ्तर लाया गया है।

बता दें यस बैंक के आर्थिक संकट को देखते हुए आरबीआई ने 50 हजार रूपए की लिमिट लगा दी है। हालाकिं एमरजेंसी में जमाकर्ता 5 लाख रूपए तक अकाउंट से निकाल सकते है। बैंक ड्राफ्ट और पेय आर्डर के जरिये 50 हजार से ज्यादा की रकम निकाली जा सकती है। वित्त मंत्री ने यस बैंक के जमाकर्ताओं को राहत देते हुए कहा है की उनके पैसे सुरक्षित है। वहीँ देश की सबसे बड़ी बैंक एसबीआई यस बैंक में निवेश कर सकती है। तो अब जमाकर्ताओं को घबराने की जरुरत नहीं है। 31 मार्च तक ही RBI द्वारा पैसे निकासी पर लिमिट है।

World Cup T20 :-Ind vs Aus की खिताबी भिड़ंत कल,दोनों टीमों के बीच के रिकॉर्ड

यस बैंक के ऊपर संकट बैड लोन की वजह से आया है। बैंक ने लोन उन सभी कंपनियों को दिया,जो पहले से ही घाटे में चल रही थी। जेट एयरवेज,दीवान हाउसिंग ,एलएंडएफएस,कैफे कॉफी डे,कॉक्स एंड किंग्स जैसी कई कंपनियों को लोन दिया गया। जिसकी वजह से अब आर्थिक संकट के बादल यस बैंक पर मंडरा रहे है। अब एसबीआई और सरकार ही बैंक के लिए संकटमोचन बन सकते है। देश ने महाराष्ट्र की पीएमसी बैंक का हाल देखा है। इस वजह से यस बैंक के जमाकर्ता सरकार द्वारा आश्वान दिए जाने के बाद भी चिंतित है। अब देखना होगा की क्या यस बैंक में एसबीआई निवेश करेगा या बैंक का विलय किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here