किसने दहलाई राजधानी ‘लखनऊ’ ?

राजधानी में अपराधियों के हौसले कितने बुलंद हैं इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि कल एक पूर्व ब्लॉक प्रमुख़ को बदमाश सरेराह गोली मारकर फ़रार हो गए। गोली लगने से पूर्व ब्लॉक प्रमुख की मौके पर ही मृत्यु हो गई। मृतक का नाम अजित सिंह है जो कि मऊ का रहने वाला है।

घटना में में अजित सिंह के एक साथी मोहर सिंह को भी पैर में तीन गोलियाँ लगी हैं। मोहर

सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एक अन्य डिलीवरी ब्यॉय जो उस वक़्त उधर से गुजर रहा था को भी पैर में गोली लगी है। घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल व्याप्त है

पुलिस चौकी के पास हुयी वारदात !

लखनऊ में विभूतिखंड में भीड़भाड़ वाले कठौता चौराहे पर पुलिस चौकी के पास बुधवार सरेशाम गैंगवार के दौरान 35 राउंड फायरिंग हुई । वारदात में मऊ के मोहम्मदाबाद गोहना के पूर्व प्रमुख अजीत सिंह की हत्या कर दी गई। पुलिस के अनुसार, अजीत को आठ से दस गोलियां लगी थी व मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

गोली लगने से घायल हुए डिलीवरी बॉय आकाश को वहां गुजर रही एक महिला सिपाही ने एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने बताया कि आकाश को एक गोली लगी है। वहीं दूसरे घायल को लोहिया अस्पताल ले जाया गया।

2000 से था जिला बदर !

पुलिस आयुक्त डी. के. ठाकुर ने बताया कि मृतक अजित सिंह के ऊपर पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज़ हैं। जिनमें से 5 मामले हत्या के हैं। वर्ष 200 में उसे जिला मजिस्ट्रेट जिला बदर कर दिया था। उसके बाद से वह लखनऊ में रह रहा था।

मुख़्तार अंसारी गैंग से थी करीबी !

अजीत सिंह की हत्या में गैंगवार की आशंका से एसटीएफ को भी लगा दिया गया है। एक टीम ने घटनास्थल पहुंचकर मुआयना करने के साथ मोहर सिंह से पूछताछ की। पुलिस सूत्रों का कहना है कि अजीत बाहुबली मुख्तार अंसारी का करीबी है और उसकी मौत गैंगवार में हुई है।

विधायक की हत्या में गवाह था अजित सिंह !

आजमगढ़ के जीयनपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक सर्वेश सिंह की 19 जुलाई, 2013 को बदमाशों ने घर में घुसकर दिनदहाड़े गोली हत्या की थी। वारदात में अजीत चश्मदीद गवाह था। इस मामले में ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह व अखंड सिंह सहित 13 लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ था। इस वारदात को पुलिस विधायक हत्याकांड से जोड़कर देख रही है। इसी बिंदु पर जांच भी शुरू कर दी गई है। कुंटू जीयनपुर के छपरा गांव का रहने वाला है। फिलहाल अखंड और कुंटू दोनों जेल में है।

अजीत सिंह की विधायक सीपू सिंह की हत्या के आरोपी ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह से रंजिश थी। कुंटू जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के छपरा गांव का रहने वाला है और अभी जेल में है। विधायक हत्याकांड में उसके अलावा 12 लोगों पर एफआईआर कराई गई थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here