जन्मदिवस के मौके पर मायावती ने दी नव वर्ष की बधाई

mayawati birthday
google

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री (Former CM) तथा बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) का आज 15 जनवरी को 64वां जन्मदिन है। अपने जन्मदिवस के अवसर पर मायावती ने लोगों को नव वर्ष 2020 की बधाई दी और अपनी लिखी हुई पुस्तक ‘मेरा सफ़र नामा’ जारी किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज 15 जनवरी को मेरा जन्मदिन है और हर साल बसपा के सभी कार्यकर्ता विभन्न स्तर पर हमारे सन्त गुरुओं महात्मा फुले ‘सर्व जन हिताय व सर्व जन सुखाए’ के रूप में मनाते है।

मायावती ने शुभचन्त्तको व कार्यकर्ता को उनका जन्मदिन मनाने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यहाँ गरीब लोग भी अत्यधिक जरूरत मन्द लोगों की सहायता करते हैं। देश की अर्थव्यवस्था बहुत ज़्यादा मंदी होने की वजह से अत्यधिक खराब हालत में पहुँच गई है और इस स्थिति में लग रहा है कि कांग्रेस की नीतियां भी बाहर होती हुई नज़र आ रही है। मायावती ने इस दौरान कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस भी भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तरह की उसी के रास्ते पर चल रही है और करीब सभी मुद्दों को उसने ताख पर रख दिया है।

कल होगा मायावती का जन्मदिन, करेंगी अपनी ब्लूबुक का विमोचन

बसपा सुप्रीमों मायावती ने कहा कि मौजूदा भाजपा की सरकार तथा पूर्व में कांग्रेस की सरकार दोनों का रास्ता एक ही है और दोनों एक ही थाली के चट्टे बट्टे है। इन दोनों की नीतियों की वजह से बसपा बहुत ज़्यादा चिंतित है। मायावती ने कहा की यदि बीजेपी की सरकार कांग्रेस के रास्ते पर ही चलती रही तो धीरे धीरे सभी राज्यो से उसकी सत्ता चली जाएगी। बीजेपी को देश में करोड़ों की जनता की बेरोजगारी, नोट बन्दी, NRC आदि जैसे मुद्दों को छोड़ कर लोगों के हित में काम करना चाहिए।

मायावती ने कांग्रेस के सात साथ बीजेपी सरकार पर भी जमकर बोलीं। उन्होंने कहा कि बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग कर रही है जिससे देश भर में अराजकता का माहौल है और जनता परेशान है। भजपा कांग्रेस सरकार से भी 2 कदम आगे है। कांग्रेस कि गलत नीतियों के चलते जनता ने उनको सज़ा दी। इसी तरह बीजेपी भी ख़त्म हो जाएगी। उन्होंने प्रदेश की योगी सरकार को भी विफल कहा और बताया कि बीजेपी को अपने वादों पर चलना चाहिए। देश भर में छोटे उद्योग धंधे बंद हो रहे हैं और किसानों की भी हालत बहुत खराब है। महगाई ने आम लोगों की कमर तोड़ रखी है।

मायावती ने कहा कि झूठ बोलने की राजनीति हो रही है और हमारी पार्टी कभी झूठी राजनीति नहीं करती है। कांग्रेस को भी झूठ की राजनीति बंद कर देना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैने खुद नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध किया है। सीएए को लेकर अन्य पार्टियां पहले खामोश थीं लेकिन बसपा ने CAA के खिलाफ संसद में वोट दिया था। बसपा शांतिपूर्ण तरीके से इसका विरोध करती रही है। उन्होंने कहा कि वह अम्बेडकर तथा कांशीराम के मूवमेंट को आगे बढ़ा रही हैं और कांशीराम के दिखाए रास्ते पर चल रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here