गंगा यात्रा के उद्देश्यों का सन्देश जनता तक पहुंचाएंगे सीएम

Ganga Yatra
google

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 27 जनवरी से लेकर 31 जनवरी तक पांच दिवसीय गंगा यात्रा निकालने की तैयारियों में जुटे हुए हैं। इस सम्बन्ध में उन्होंने जनपदों के प्रभारी मंत्रियों तथा नोडल अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक किया। इस दौरान उन्होंने गंगा की अविरलता, निर्मलता व स्वच्छता तथा जनकल्याणकारी योजनाओं के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए कहा। उन्होंने प्रभारी मंत्रियों तथा नोडल अधिकारियों को निर्देश दिया कि यात्रा के तटवर्ती क्षेत्रों के अवस्थापना व आर्थिक विकास से जोड़ते हुए व्यापक प्रबन्ध करवाना सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंगा यात्रा से सम्बन्धित विभागों को आदेश दिया कि इस यात्रा के लिए सभी विभाग जल्द से जल्द सभी तैयारियों को अन्तिम रूप दें। उन्होंने मंत्रियों तथा अधिकारियों से कहा कि गंगा यात्रा के उद्देश्यों का सन्देश हर एक तक पहुंचे और यह यात्रा गंगा के प्रति हम सबके दायित्व निवर्हन का प्रतीक बन जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि सभी प्रभारी मंत्रिगण अपने-अपने ज़िलों में गंगा यात्रा से जुडी हुई कार्य योजना को आखरी रूप देते हुए अपनी सारी तैयारियां सुनिश्चित कराएं।

मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी ने ली पहली सेल्फी

मुख्यमंत्री योगी ने आगे कहा कि गंगा यात्रा के दौरान जनता के अलावा जनप्रतिनिधियों की सहभागिता भी सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने बताया कि गंगा का तटवर्ती इलाका विकास तथा समृद्धि का प्रतीक है। गंगा यात्रा को अर्थ-गंगा अभियान से जोड़ा जाए और बाढ़ क्षेत्र को छोड़कर गंगा के दोनों ओर तटवर्ती क्षेत्रों में बागवानी की व्यवस्थाएं करवाई जाएं। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा यात्रा के दौरान विभिन्न लाभार्थीपरक योजनाओं के पात्र लोगों को अनुमन्य सुविधा तथा सहायता उपलब्ध करवाई जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here