कोरोना वायरस के नए संस्करण की वजह से Share Market को बड़ा नुकसान, फिर बंद होंगी…

new version of corona virus

कोरोना का नया संस्करण मिलने की वजह से बेंचमार्क BSE (Bombay Stock Exchange) सेंसेक्स के साथ इक्विटी सूचकांकों में शुक्रवार को लगभग 3 प्रतिशत की गिरावट आई, जो कि 1,650 अंक से अधिक गिर गया।

BSE का 30 Share वाला सूचकांक 2.87 % की गिरावट के साथ 57,107 पर बंद हुआ; जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 510 अंक या 2.91 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,026 पर बंद हुआ।

कहां मिला Corona Virus का नया संस्करण?

दरअसल दक्षिण अफ्रीका में 26 नवम्बर 2021 को कोरोना का एक नया संस्करण मिलने की खबर सामने आयी थी। जिसने दुनियाभर के देशों को परेशान कर दिया है। नए कोविद संस्करण की पहचान के बाद कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका और इसके आस-पास के देशों की हवाई यात्रा को एक बार फिर बंद कर दिया है।

वैश्विक बाजारों पर बुरा असर

वैश्विक शेयरों में शुक्रवार 26 तारीख को गिरावट आई और तेल 80 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गया। सितंबर 2020 के बाद से अपने सबसे खराब दिन के लिए यूरोपीय शेयरों में 2.7 प्रतिशत की गिरावट आई।

• जर्मनी का DAX 3 %
• ब्रिटेन का FTSE 100 2.7 %
• MSCI का जापान के बाहर एशियाई शेयरों का सूचकांक 2.2 प्रतिशत गिर गया
• जापान का निक्केई 2.5 फीसदी और एसएंडपी 500 फ्यूचर्स 1.8 फीसदी की गिरावट
• अमेरिकी कच्चे तेल का वायदा 5.7 % गिरकर 73.96 डॉलर प्रति बैरल और ब्रेंट क्रूड 4.66 प्रतिशत गिरकर 78.38 डॉलर पर आ गया।

1. पेरिस में सीएसी 3.8% गिरकर 6,805.72 पर
2. एशिया में, शंघाई कंपोजिट इंडेक्स 0.6% गिरकर 3,564.09
3. टोक्यो में निक्केई 225 गिरकर 28,751.62 पर आ गया।
4. हांगकांग में हैंग सेंग 2.7% गिरकर 24,080.52 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स पैक में इंडसइंड बैंक 6.01 % की गिरावट के साथ शीर्ष पर रहा। इसके बाद

• मारुति
• टाटा स्टील
• एनटीपीसी
• बजाज फाइनेंस
• एचडीएफसी

एनएसई प्लेटफॉर्म पर निफ्टी (सब-इंडेक्स 6.26 फीसदी तक गिरे)

• रियल्टी
• मेटल
• पीएसयू बैंक
• ऑटो

लम्बे समय के Lockdown के बाद बाजार संभालना शुरू हुआ था। पर कोरोना ने एक बार फिर बड़ी गिरावट शेयर मार्किट में कर दी है। वास्तव में इस सप्ताह में ही यह दूसरी बार है जब शेयर बाजारों में 1,000 से अधिक अंक की गिरावट देखी गई है। 22 नवंबर (सोमवार) को सेंसेक्स 58,466 पर बंद होने के साथ सूचकांक लगभग 2 प्रतिशत गिर गया था।

इस सप्ताह के दौरान सेंसेक्स में 3,181 अंक या कुल मिलाकर 4 प्रतिशत की गिरावट आई। व्यापक निफ्टी में भी 4 फीसदी की गिरावट आई। 7 महीने में सबसे खराब – ने निवेशकों को 7.35 लाख करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान कर दिया है। BSE में सूचीबद्ध सभी कंपनियों का बाजार मूल्यांकन 2,58,31,172.25 करोड़ रुपये रहा।

Vastu Shastra: ईस्ट या वेस्ट किस दिशा में होना चाहिए घर, रसोईं व पूजा घर

क्या भारत से भी बंद होनी उड़ाने

उड्डयन मंत्रालय ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए बताया था कि 15 दिसम्बर से अंतर्राष्ट्रीय उड़ान शुरू कर दी जाएँगी। लेकिन कोरोना के नए संस्करण मिलने कि वजह से इसे रद्द किया जा सकता है। आज दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी से निवेदन किया है कि वो उन देशों कि उड़ानों को बंद रखें जहाँ पर कोरोना के मामले ज्यादा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here