चिन्मयानंद के खिलाफ कांग्रेस महिलाओ में आक्रोश, प्रदर्शन जारी

लॉ की एक छात्रा द्वारा रेप और ब्लैकमेल का आरोप लगाए जाने के बाद पिछले सप्ताह गिरफ्तार किए गए पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद अब भारतीय जनता पार्टी के सदस्य नहीं हैं। यह दावा उत्तर प्रदेश में पार्टी के प्रवक्ता ने बुधवार को किया, जो आरोपों के सामने आने के पार्टी की एक महीने बाद दी गई पहली आधिकारिक प्रतिक्रिया है। 72-वर्षीय चिन्मयानंद केंद्र की अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में राज्यमंत्री थे। वह तीन कार्यकाल तक पार्टी के सांसद भी रह चुके हैं। उत्तर प्रदेश में भाजपा के प्रवक्ता हरीश श्रीवास्तव ने बुधवार को बताया, “चिन्मयानंद अब भाजपा के सदस्य नहीं रहे हैं।अब इसके आगे का कार्य कानून करेगा।

हजरतगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांधी प्रतिमा पर महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन चल रहा है। महिलाओं का आरोप बीजेपी सरकार में चिन्मयानंद स्वामी के ऊपर जो आरोप लगाए गए थे। कांग्रेस महिलाओं का कहना की उस छात्रा के साथ जो षड्यंत्र किया गया है, वह बिल्कुल भी नहीं चलेगा। कांग्रेस महिला का आरोप की है छात्रा की शिकायत पर धारा 376 क्यों नहीं लगाई गई।

कांग्रेस महिलाओं का कहना की पीड़ित महिला को आखिर क्यों फर्जी केस लगा कर जेल भेजा गया। बता दे की चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्र को 25 सितम्बर को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद पुलिस ने उस छात्रा को कोर्ट के सामने पेश किया गया। कोर्ट ने छात्रा को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

शाहजहांपुर मेें दुष्कर्म पीड़ित छात्रा से मिलने पहुंचे सपाइयों ने किया धरना प्रदर्शन

छात्रा को इसलिए भेजा गया जेल

छात्रा से मंगलवार को पूछताछ की गई थी। पुख्ता सबूत मिलने के बाद उसे गिरफ्तार कर मेडिकल जांच कराई जा रही है। मेडिकल जांच के बाद उसे अदालत में पेश किया गया। इसके बाद कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया है। छात्रा की गिरफ़्तारी से पहले चिन्मयानंद को ब्लैकमेल कर पांच करोड़ मांगने के मामले में तीन आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है ।उनमें संजय और विक्रम ने स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने चिन्मयानंद से पांच करोड़ रूपए मांगे थे । दूसरी ओर युवती ने ब्लैकमेलिंग और जबरन उगाही के मामले में शामिल होने के पुख्ता सूबत मिले हैं।

महिलाओं का कहना की छात्रा को न्याय दिलाने के लिए जिस हद तक भी जाना होगा वहां तक जाएंगे। वहीं कांग्रेसी महिलाओं का कहना की छात्रा को न्याय दिलाने के लिए उन सभी को जिस हद तक भी जाना होगा वहां तक जाएंगे। छात्रा की गिरफ़्तारी को लेकर कांग्रेसी महिलाओ में आक्रोश जारी है। उनका कहना की छात्रा को बेवजह फसाया जा रहा है। ये सब सरकार का षड्यंत्र है। कांग्रेस महिलाओं का कहना की बीजेपी सरकार के खिलाफ जिस -जिस ने आवाज उठाना चाहा, बीजेपी सरकार ने उस उसके ऊपर मुकदमा लगा कर उसको जेल भिजवा दिया है।