प्रदेश शासन ने दिया एसपी पंकज कुमार पर कार्यवाही का आदेश

उत्तर प्रदेश के बस्ती ज़िले में भारतीय जनता पार्टी के नेता आदित्य नारायण उर्फ़ कबीर तिवारी की हत्या कर दी गई थी जिसके बाद बस्ती की डीएम माला श्रीवास्तव तथा एसपी पंकज कुमार को हटा दिया गया था। इस के अलावा 13 आईएएस, 3 आईपीएस, 4 वरिष्ठ पीसीएस अफसरों का तबादला कर दिया गया था।

कबीर तिवारी की हत्या के बाद हुए बवाल को सरकार ने गंभीरता से लेते हुए बस्ती के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार पर विभागीय कार्यवाही करवाने का निर्णय लिया है। बस्ती ज़िले के पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात रहते हुए पंकज कुमार ने पुलिस उपमहानिरीक्षक द्वारा पूर्व में चेकलिस्ट के ज़रिये दिए गए दिशा निर्देशों पर प्रभावी कार्यवाही नहीं किया और नियंत्रण सुनिश्चित नहीं करवा सके।

अपराध का शिकार हुए भाजपा नेता, गोली मार कर की गयी हत्या

प्रदेश शासन ने 12 अक्टूबर को एक विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार की कार्यशैली में शिथिलता, घटना के सम्बन्ध में प्रभावी कार्यवाही व नियंत्रण ना किये जाने के साथ कानून व्यवस्था  की विषम स्थिति उत्पन्न होने के कारण उनकी लापरवाही दिखाई देती है। पंकज कुमार की कार्यशैली में अनुत्तरदायित्व के कारण दोषी पाया गया है अतः अखिल भारतीय सेवाओं के उल्लंघन करने के कारण उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही कराने का फैसला लिया गया है।