द कश्मीर फाइल्स की रिलीज़ पर लग सकती है रोक, बॉम्बे हाई कोर्ट में होगी सुनवाई

The-Kashmir-Files
source - google

बॉलीवुड से बैर लेने वाले डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ विवादों में घिरी हुई है। इसमें दिखाए जाने वाली कहानी सत्य घटना है ऐसा कहना है फिल्म मेकर विवेक अग्निहोत्री का, लेकिन इसपर बॉम्बे उच्चन्यालय में इंतज़ार हुसैन ने रिलीज़ न होने के लिए जनहित याचिका दायर की है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने इस मूवी की रिलीज पर रोक लगाने की याचिका पर सुनवाई करने का फैसला किया है। इस मामले की सुनवाई आज मंगलवार 8 मार्च, 2022 को शाम 4 बजे होने वाली है।

मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता के सामने इस याचिका को अर्जेन्ट लिस्टिंग के लिए उठाया गया, जिस पर वो सुनवाई के लिए तैयार हो गए। यह फिल्म 11 मार्च 2022 को रिलीज़ होने वाली है। ऐसे में इसकी रिलीज़ को रोकने की याचिका मूवी को नुकसान पहुंचा सकती है। याचिकाकर्ता ने याचिका में कहा है कि फिल्म के ट्रेलर में मुस्लिमों को कश्मीरी पंडितों का नरसंहार करते हुए दर्शाया गया है, जो मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को आहत करने वाला है।

सैयद ने कहा है कि पूरी फिल्म इस घटनाक्रम के एक ही पक्ष को दिखाती है, जो हिन्दू समाज को आक्रोशित कर के भड़का सकती है। याचिकाकर्ता ने इस याचिका में फिल्म की रिलीज रोकने के साथ ही इसके ट्रेलर को भी यूट्यूब से हटाने की भी मांग की है। दावा किया है कि यदि हिन्दु भड़के तो पूरे देश में भारी हिंसा हो सकती है।

Mishion Prerna UP: कैसे करें Student और Teacher पंजीकरण व लॉगिन?

याचिका में ये भी दावा किया गया है कि 5 राज्यों में चुनाव के मद्देनज़र सियासी दल इस फिल्म का उपयोग सांप्रदायिक हिंसा को बढ़ावा देने के लिए कर सकते हैं। इस याचिका के जवाब में विवेक अग्निहोत्री ने कहा कि, ‘कल 4 बजे, हम देखेंगे।’

आपको बता दें, यह विवेक की पहली फिल्म नहीं है जो विवादस्पद इससे पहले ‘द ताशकेंट फाइल्स’ भी विवादों म फांसी थी, पर अब ‘द कश्मीर फाइल्स’ कश्मीर की उस सच्चाई को दिखाने वाली है जिसके बारे में आज तक किसी ने भी बड़े स्तर पर न तो बात की है, न ही कभी बड़े परदे पर लाइ गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here