हद है लापरवाही कीः मरीज को MRI मशीन में डालकर भूल गए डॉक्टर, मरते-मरते बचा

पचकूला का अस्पताल

देश के अस्पतालों की हालत के बारे में सभी जानते हैं। इनकी लापपरवाहियों के अनेक मरीजों की जान चली जाती है तो कुछ मरते-मरते बचते हैं। कहीं डॉक्टर लापता होते हैं तो कहीं वार्डबॉय गंबीर रोगियों की दवा देते नजर आते हैं। ऐसी ही बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां एक बुजुर्ग मरीज को अस्पताल का स्टाफ MRI मशीन में डालकर भूल गया।मरीज की जब सांसे टूटने लगी तो वह किसी तरह से मशीन से बाहर आया।

बुजुर्ग मरीज को मशीन में डालकर भूल गए

पंचकूला के सेक्टर -6 के अस्पताल के डॉक्टरों की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां चल रहे एमआरआई (MRI) एंड सिटी स्कैन सेंटर में 61 साल के बुजुर्ग राममेहर को एमआरआई मशीन में डालकर वहां के टेक्नीशियन भूल गए। इस बीच मरीज की सांसें टूटने पर उन्‍होंने काफी हाथ-पांव मारे, बुजुर्ग ने हिम्मत नहीं हारी और लगातार जोर लगाते रहे, इस बीच बेल्ट टूट गई और वह मशीन से बाहर निकलने में कामयाब रहे।

नगर निगम और पीडब्ल्यूडी की बड़ी लापरवाही, कपूरथला चौराहे पर 20 फिट का हुआ गड्ढा

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री से की शिकायत

पीड़ित ने एमआरआई और सिटी स्कैन सेंटर के कर्मचारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं और उनकी शिकायत हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज से की है। पीड़ित ने डीजी (हेल्थ) डॉ. सूरजभान कंबोज सेक्टर-5 स्थित थाने में भी इसकी शिकायत दी है। पीड़ित ने अपनी शिकायत में लिखा है कि अगर वह 30 सेकंड और बाहर नहीं आते तो उनकी मौत हो जाती।

अस्पताल के सेंटर इंचार्ज ने कहा…

इस मामले को लेकर अस्पताल के सेंटर इंचार्ज से बात की गई तो उसने कहा, इसमें टेक्नीशियन की कोई गलती नहीं है। टेक्नीशियन ने ही पेशेंट को बाहर निकाला। बकौल सेंटर इंचार्च, मरीज का 20 मिनट का स्कैन था और टेक्नीशियन को आखिरी 3 मिनट का सीक्वेंस लेना था। अंत में सिर्फ दो मिनट रह गए थे। घबराहट के कारण वह हिलने लग गए थे।

इंचार्ज ने बताया कि टेक्नीशियन ने बुजुर्ग को ऐसा करने से मना किया था। इसके साथ ही टेक्नीशियन दूसरे सिस्टम में नोट्स चढ़ा रहा था, जब 1 मिनट रह गया था तो टेक्नीशियन ने देखा मरीज खुद ही आधा बाहर आ गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here