बाराबंकी में लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहा ढोंगी बाबा

Baba blasting lockdown and social distancing
बाराबंकी

बाराबंकी :- बाराबंकी के एक गांव में यहां का एक व्यक्ति पुलिस की नाक के नीचे जमकर लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहा है। यह ढोंगी शख्स भगवान और पूर्वजों के साक्षात दर्शन करवाने का दावा कर रहा है। इसका दावा है कि वह ईश्वर और पूर्वजों के जीवन्त साक्षात दर्शन करवा सकता है।

सीएम योगी ने मजदूरों को प्रदेश में ही रोजगार देने की छेड़ी मुहिम…

उसके इसी दावे से बहक कर गांव में लोगों की भारी भीड़ उमड़ आयी। गांव में उमड़ी भीड़ के अंदर कोरोना महामारी का भय भी नहीं दिखा और सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ी। ऐसे में यहां कोरोना बम फूटने का खतरा भी मंडरा रहा है। हालाकि जो शख्स भगवान के दर्शन करवाने का दावा कर रहा है, उसने खुली चुनौती देते हुए कहा कि जिसे विश्वास न हो वह स्वयं आये। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि जब जिले में धारा 144 लागू है तो फिर पुलिस को ऐसे आयोजनों की भनक क्यों नहीं लग रही।

अंधविश्वास का यह मामला बाराबंकी जिले के कोठी थाना अंतर्गत पडरावा गांव का है। इस गांव के प्रधान प्रतिनिधि लक्ष्मी नारायण जयसवाल भगवान व पूर्वजों से सीधे दर्शन कराने का दावा करते हैं। उनके इसी दावे के बाद आसपास के कई गांव के सैकड़ो लोग एकत्रित हो गए। फिर लक्ष्मी नारायण का दरबार सजा और शुरू हुआ अंधविश्वास का खेल। सैकड़ों की संख्या में लोग दर्शन करने के लिए इस गांव में पहुंचे तो उनके चेहरे पर कोरोना जैसी महामारी का भय भी नही दिखाई दिया और लोग भीड़ लगाकर एक दूसरे से सटे खड़े दिखाई दिए।

अपने सजे सजाए दरबार में लक्ष्मीनारायण जयसवाल ने कई लोगों के सर पर हाथ रख कर जय बाबा सदानंद का नाम लेकर आंखें बंद कर भगवान के दर्शन कराने का दावा किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here