अमेरिका में इस तरह होते है राष्ट्रपति चुनाव, ये है पूरी प्रक्रिया

USA president election process
image source - google

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव हो चुके हैं और वोटों की गिनती की जा रही है। परिणाम आने के बाद ही पता चलेगा कि सुपर पावर की कमान कौन संभालेगा। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अमेरिका में चुनाव किस तरह होते हैं?

अमेरिका विश्व का सबसे पुराना लोकतंत्र माना जाता है। 216 वर्ष पहले 1804 में राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चयन के लिए पहली बार चुनाव हुए थे। जिसे सबसे ज्यादा वोट मिलते थे वह राष्ट्रपति बनता था और जिसे कम वोट मिलते वो उपराष्ट्रपति बनता था।

कौन कराता है चुनाव

संयुक्त राज्य निर्वाचित मंडल या संयुक्त राज्य इलेक्टोरल कॉलेज राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव हर 4 साल में कराती है। अमेरिका के नागरिक प्रत्यक्ष रूप से नहीं चुनते बल्कि वे निर्वाचन को चुनते हैं। जो विशिष्ट उम्मीदवारों को मतदान करने की प्रतिज्ञा लेते हैं।

इलेक्टोरल कॉलेज में 538 इलेक्टर्स होते हैं। इन्हें जनता चुनती है और यह इरक्टर्स राष्ट्रपति चुनते हैं। अब यह जरूरी नहीं कि जिस इलेक्ट्रल को जनता ने पसंद किया है वो उनके पसंदीदा उम्मीदवार को ही चुनें। जैसे अभी अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए ट्रंप और बिडेन में टक्कर हो रही है।

मान लीजिए इस चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप को जो बिडेन से ज्यादा वोट मिले पर जनता द्वारा चुने गए इलेक्टर्स बिडन को अपना वोट दे दे। तो अमेरिका का राष्ट्रपति जो बिडेन बन जाएंगे।

राष्ट्रपति उम्मीदवार बनने के लिए शर्तें

1. राष्ट्रपति पद के लिए जो भी उम्मीदवार है उसका जन्म अमेरिका में ही हुआ हो
2. उसकी आयु 35 वर्ष कम से कम होनी चाहिए
3. अमेरिका का ही नागरिक हो और इंग्लिश आनी चाहिए
4. अमेरिका में वह व्यक्ति लगातार 14 सालों से रह रहा हो
5. इन सभी से जुड़े दस्तावेज फेडरल इलेक्शन कमिशन के पास जमा करने होते हैं

सबसे पहले राजनीतिक दल अपने स्तर पर प्रतिनिधि को चुनते हैं। इसके बाद वो दूसरे चरण में राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार का चुनाव करता है।

प्राइमरी

अमेरिका के ज्यादातर राज्यों में इस प्रक्रिया का उपयोग किया जाता है। इसमें आम जनता भाग लेती है और पार्टी को बताती है कि उनकी पसंद कौन है। यह दो तरीके से होता है, पहला ओपन और दूसरा सीक्रेट।

कॉकस

यह प्रक्रिया अमेरिका के छह राज्यों में होती है। इसका आयोजन राजनीतिक पार्टियां कराती है। इसमें मतदाता और नियम पार्टी तय करती है। पार्टी के उम्मीदवारों में से किसी एक का हाथ उठाकर चयन करते हैं।

नेशनल कन्वेंशन

इस प्रक्रिया में वे उम्मीदवार हिस्सा लेते हैं जो प्राइमरी और कॉकस से चुनकर आते हैं। यहां पर मतदान होता है और इसके बाद राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार को चुना जाता है।

इन सब तथ्यों के बाद चुनाव प्रचार प्रसार करने का समय आता है। इसमें अलग-अलग पार्टी के उम्मीदवार वोटर्स को लुभाने की कोशिश करते हैं। अलग-अलग उम्मीदवारों में टीवी पर बहस भी होती है।

अमेरिका में चुनाव के लिए दिन पहले से ही तय होता है। यहां पर नवंबर महीने के पहले मंगलवार को मतदान होता है और ये अमेरिका के दो छोटे राज्य आयोवा और न्यू हैंपशायर से शुरू होते हैं।

अमेरिका स्विंग स्टेटस

तीसरे चरण में उम्मीदवार टेलीविजन पर कई मुद्दों पर बहस करते हैं और अपनी अपनी बात रखते हैं तो इनकी पूरी कोशिश स्विंग स्टेट के मतदाताओं को लुभाने में होती है। क्योंकि यहां के मतदाता किसी भी पक्ष में मतदान कर सकते हैं।

Swing state Name
Georgia Michigan
Texas Pennsylvania
Ohio Florida
Wisconsin Arizona
Minnesota Nevada

America 50 States List 

1. Alabama 11. Hawaii 21. Michigan 31. North Carolina 41. Utah
2. Alaska 12. Idaho 22. Minnesota 32. North Dakota 42. Vermont
3. Arizona 13. Illinois 23. Mississippi 33. Ohio 43. Virginia
4. Arkansas 14. Iowa 24. Missouri 34. Oklahoma 44. Washington
5. California 15. Kansas 25. Montana 35. Oregon 45. West Virginia
6. Colorado 16. Kentucky 26. Nevada 36. Pennsylvania 46. Wisconsin
7. Connecticut 17. Louisiana 27. New Hampshire 37. South Carolina 47. Wyoming
8. Delaware 18. Maine 28. New Jersey 38. South Dakota 48. Nebraska
9. Florida 19. Maryland 29. New Mexico 39. Tennessee 49. Indiana
10. Georgia 20. Massachusetts 30. New York 40. Texas 50. Rhode Island

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here