सनी देओल हुए लापता,गुमशुदा होने के लगाए गए पोस्टर

google

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और गुरदासपुर से BJP के सांसद Sunny Deol इन दिनों लापता हो गए है। क्या हुआ आप भी हैरान इस खबर से लेकिन ये खबर सही है। दरअसल पंजाब पठानकोट में इन दिनों कई जगहों पर पोस्टर लगाए गए हैं।जिन पर लिखा है “गुमशुदा की तलाश”इसका मतलब तो यही हुआ न की सांसद सनी देओल कहीं लापता हो गए है।

क्या है कारण उनके लापता होने का

आपको बता दे की काफी लंबे समय से अपने सनी देओल संसदीय क्षेत्र में गए है। इसी के चलते अब किसी ने उनके लापता होने के पोस्टर वहां लगा दिए हैं। साथ ही उनके संसदीय क्षेत्र में नहीं आने को लेकर विपक्षियों ने भी उन पर निशाना भी साधा है।हालांकि अभी तक सनी देओल की इन पोस्टरों को लेकर कोई भी प्रतिक्रिया अभी तक नहीं आई है।

Box office collection:Tanhaji,Chhapaak ने तीन दिन में की इतने करोड़ कमाई

इसलिए लगाए गए है पोस्टर

जैसा की मैने आपको बताया पंजाब पठानकोट में कुछ जगहों पर सनी देओल के लापता होने के पोस्टर लगाए गए हैं। ये पोस्टर रेलवे स्टेशन पर भी चिपकाए गए हैं। पोस्टर पर लिखा है “गुमशुदा की तलाश MP Sunny Deol” लेकिन अभी इस विषय में कुछ साफ नहीं हो पाया है कि आखिर यह पोस्टर किसने और क्यों लगाए हैं।

ट्वीटर पर हुए ट्रोल सनी देओल

सनी देओल के लापता संबंधी पोस्टर लगने के बाद वे ट्वीटर पर लगातार ट्रोल हो रहे हैं। कुछ लोगों ने उनको गैर जिम्मेदार बताया है तो कुछ लोग उनका मजाक उड़ा रहे है। इतना ही एक व्यक्ति ने तो गुमशुदगी के पोस्टर को शेयर करते हुए लिखा “पाकिस्तान में ढूंढिए कहीं हैंडपंप उखाड़ रहे होंगे” इसके साथ ही एक व्यक्ति ने कहा कि बीजेपी को लगता है कि सभी काम फेस वैल्यू पर होते हैं।

सनी देओल को एक दिन पहले इस शहर में देखा गया था

खबरों के मुताबिक सनी देओल इससे पहले रविवार को नागपुर में दिखे थे। आपको बता दे की सनी देओल राष्ट्रीय युवा‌ दिवस के मौके पर खासदार क्रीड़ा महोत्सव के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के साथ वहां पहुंचे थे। इसी के साथ सनी देओल को कई बार राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मुख्यालय में भी देखे जा चूका हैं। वे कई बार नितिन गडकरी के साथ यहां पर जाते हैं।

सनी देओल क्या सच में है लापरवाह

दरअसल सनी देओल 2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट पर गुरदासपुर से चुनावी मैदान में उतरे थे। कांग्रेस के दिग्गज नेता सुनील जाखड़ उनके सामने थे। हालाँकि उस समय सुनील सांसद भी थे। आम आदमी पार्टी ने भी अपना उम्मीदवार उतारा था। सनी देओल ने जीत दर्ज कर संसद की दहलीज पार की। सांसद चुने जाने के बाद पहले सत्र में भी उनकी उपस्थिति कुछ खास नहीं रही। रिपोर्ट्स के अनुसार पहले सत्र में वह 9 दिन उपस्थित तो 28 दिन अनुपस्थित रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here