जानें किसानों के आंदोलन पर क्या बोले केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

Farmar protest
image source - google

किसानों द्वारा कृषि बिल का लगातार विरोध किया जा रहा है। दिल्ली बॉर्डर पर भारी संख्या में किसान प्रदर्शन करने पहुंच रहे है। इसको लेकर अब राजनीति शुरू हो गयी है। BJP का आरोप है की कांग्रेस किसानों को भ्रमित कर रही है। वहीँ कांग्रेस का कहना है की BJP इस बिल से किसानों को परेशान कर रही है।

इस बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। भारत सरकार किसानों की समस्याओं के लिए किसान यूनियन से बात करने के लिए पूरी तरह तैयार है। हमने उनको 3 दिसंबर का आमंत्रण भेजा है और मुझे आशा है कि वो सब लोग आएंगे और इस संवाद के माध्यम से रास्ता ढूढेंगे।

मैं राजनीतिक दल के लोगों को कहना चाहता हूं कि अगर उनको राजनीति करनी है तो अपने नाम पर राजनीति करें, लेकिन किसानों के नाम पर सियासत नहीं होनी चाहिए।

सरकार किसान संघों से बात करने को तैयार

आगे नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सरकार किसान संघों के साथ बातचीत के लिए तैयार है ताकि उनके मुद्दों को हल किया जा सके। हमने उन्हें 3 दिसंबर को बातचीत के लिए आमंत्रित किया है। मुझे उम्मीद है कि वे बैठक में आएंगे। मैं राजनीतिक दलों से किसानों के नाम पर राजनीति नहीं करने का आग्रह करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here