PM Modi ECOSOC: कोई भी हो संकट भारत ने तेजी और एकजुटता के साथ दिया जवाब

pm modi addressing ecosoc
image source - google

कल शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र को संबोधित किया। जिसमें उन्होंने कहा कि भूकंप, चक्रवर्ती इबोला संकट या कोई अन्य प्राकृतिक या मानव निर्मित संकट हो। भारत ने तेजी और एकजुटता के साथ जवाब दिया है। कोरोना के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई में हमने 150 से अधिक देशों में चिकित्सा और अन्य सहायता उपलब्ध करवाई है।

आगे पीएम मोदी ने कहा की प्रारंभ से ही भारत ने संयुक्त राष्ट्र के विकास कार्यों और ECOSOC का सक्रिय समर्थन किया है। ECOSOC के पहले अध्यक्ष एक भारतीय ही थे। ECOSOC के एजेंडा को आकार देने में भारत ने भी योगदान दिया। संयुक्त राष्ट्र मूल रूप से द्वितीय विश्व युद्ध के उपद्रवों से पैदा हुआ था। आज महामारी (कोरोनावायरस) के प्रकोप ने इसके पुनर्जन्म और सुधार के नए अवसर प्रदान किए हैं। आइए हम यह मौका न गंवाएं।

संयुक्त राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान का भी जिक्र किया उन्होंने कहा कि हमारे 6 लाख गांवों में पूर्ण स्वच्छता प्राप्त करके हमने पिछले साल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई।

जब भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपने 75साल पूरे करेगा तब हमारा ‘हाउसिंग फॉर ऑल’ कार्यक्रम 2022 तक प्रत्येक भारतीय के सिर पर एक सुरक्षित छत सुनिश्चित करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here