फायरिंग से व्यक्ति हुआ घायल, मौके पर नहीं मिली गोली और लोगों ने भी किया इनकार

firing incident
image source - google

रामगढ़ ताल थाना क्षेत्र के नौकायन के पास बीती रात को फायरिंग की घटना हुई थी। जिसकी सूचना पीड़ित शिव कुमार ओझा ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की तो वहां से कोई सबूत नहीं मिला। आसपास के दुकानदारों से भी पुलिस ने पूछताछ की लेकिन सभी ने फायरिंग की घटना से इनकार किया।

घायल को जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया जहां पर डॉक्टर ने उसके शरीर पर फायर इंजरी या बारूद के कोई निशान नहीं मिले। घटना पहले से ही संदिग्ध लग रही थी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर क्षेत्राधिकारी कैन्ट सुमित शुक्ला ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि फायरिंग की घटना झूठी है जांच पड़ताल के बाद मुकदमे को स्पंज किया जा रहा है और वादी के मित्र के बयान की भूमिका की जांच अलग से की जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार सिद्धार्थ एनक्लेव निवासी शिव कुमार ओझा ने रामगढ़ताल पुलिस को सूचना दी कि बाइक पर सवार तीन युवकों ने उनके ऊपर तीन से चार राउंड फायरिंग की है और गोली उनको छूते हुए निकल गई घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन की लेकिन घटनास्थल से कोई खोखा कारतूस नहीं मिला और आसपास के दुकानदारों से भी पूछताछ की लेकिन किसी ने भी फायरिंग की घटना को स्वीकार नहीं किया।

Jhansi: एक बार फिर Sonu Sood बने मसीहा, पुलिस कांस्टेबल के ट्वीट के बाद…

शिव कुमार ओझा के मित्र राजेश पाठक ने पुलिस को रात 12:00 बजे बताया कि मौके पर खोखा पड़ा हुआ है। वादी शिव कुमार ओझा ने बयान दिया कि गौरव त्रिपाठी राजन मिश्रा और रवि पांडे ने उनके ऊपर फायरिंग करके फरार हो गए। पुलिस ने जब तीनों की लोकेशन को ट्रेस किया तो मौके पर उनकी लोकेशन भी नहीं मिली और उनकी गाड़ी भी घर पर सुरक्षित खड़ी हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here