दिल्ली में कोरोना का बढ़ा कहर, एक बार फिर गृहमंत्री ने संभाली कमान

Delhi covid-19 patient increase
image source - google

देश की राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोना ने रफ़्तार पकड़ ली है। जिसकी वजह से दहशत का माहौल बन गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 6396 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं और 99 मरीजों की मृत्यु हुई है।

जिसके बाद दिल्ली में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 495598 हो गई है और सक्रिय मामले 42,004 हो गई है। अब तक चालक 4,45,782 लोग स्वस्थ हो चुके हैं वे इस महामारी से 7812 लोगों की मृत्यु हुई है।

एक बार फिर गृहमंत्री ने संभाली कमान

दिल्ली को कोरोना संकट से उबारने के लिए एक बार फिर गृह मंत्री अमित शाह ने कमान संभाल ली है। 15 नवंबर को कोविड के बढ़ते मामलों और मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर की समीक्षा के लिए गृहमंत्री ने बैठक की थी। इससे पहले भी जब दिल्ली में कोरोना बेकाबू हुआ था तब गृहमंत्री ने दिल्ली सरकार के साथ तालमेल कर कार्य किया था और परिणाम सकारात्मक देखने को मिले थे।

गृह मत्री ने निर्देश दिए थे कि RT-PCR टेस्ट में 2 गुना वृद्धि की जाए और दिल्ली में लेबर की क्षमता का अधिक से अधिक उपयोग करके जहां कोविड-19 का खतरा ज्यादा हो वहां स्वास्थ्य मंत्रालय तथा आईसीएमआर की मोबाइल टेस्टिंग वैनों को तैनात किया जाए।

दिल्ली में अस्पतालों की क्षमता तथा अन्य मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर की उपलब्धता में वृद्धि की जाए।

एमसीडी के कुछ चिन्हित अस्पतालों को डेडीकेटेड अस्पतालों के रूप में कोविड-19 के हल्के-फुल्के लक्षण वाले रोगियों के उपचार के लिए परिवर्तित किया जाए।

दिल्ली सीएम ने केंद्र से मांगी अनुमति

इस तरह के कई निर्देश गृह मंत्री अमित शाह ने दिए हैं। इसके अलावा कल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि उन्होंने केंद्र को पत्र लिखा है जिसमें अनुमति मांगी गई है। उन जगहों पर लॉकडाउन लगाने की जहां पर गाइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। इसके अलावा शादियों में 200 की जगह सिर्फ 50 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई है।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here