पूर्व राष्ट्रपति ने अपनी किताब में किया दावा, नेपाल के प्रस्ताव को न ठुकराते नेहरू तो भारत का हिस्सा…

Pranab Mukherjee book
image source - google

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपनी किताब ‘द प्रेसीडेंशियल ईयर्स’ में एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बुक में लिखा है कि नेपाल के राजा त्रिभुवन वीर विक्रम शाह के प्रस्ताव को पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने ठुकरा दिया था।

नेपाल के राजा त्रिभुवन ने तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को नेपाल को भारत का एक प्रांत बनाने का प्रस्ताव दिया था। लेकिन नेहरू ने इस प्रस्ताव को यह कहते हुए ठुकरा दिया था कि नेपाल स्वतंत्र राष्ट्र है और उसे ऐसे ही रहना चाहिए।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अपनी किताब में यह भी दावा किया है कि यदि जवाहरलाल नेहरु की जगह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी होती तो नेपाल के राजा के इस प्रस्ताव को वह तुरंत स्वीकार कर लेती और नेपाल भारत का हिस्सा होता।

किताब का प्रकाशन रोकने की मांग

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की किताब कल मंगलवार को बाजार में आयी है। लेकिन उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने प्रकाशन से अभी इसे प्रकाशित होने से रोकने को कहा है। वहीं उनकी बहन शर्मिष्ठा ने कहा की पिता ने बुक को पहले ही अप्रूव कर दिया था।

ये जरुरी खबरें भी पढ़ें

पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट का न्याय, मंदिर पुन: र्निर्माण के आदेश और दंगाइयों से वसूली…

LAC पर विवाद के बीच चीन की एक और नापाक हरकत

ट्रैफिक रूल तोड़ा किसी ने और चालान पहुंच गया रतन टाटा के घर

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here