अयोध्या: उत्तर प्रदेश सरकार प्रस्तावित मुआवजा दें नहीं तो सड़को पर प्रदर्शन करेंगे अखिलेश यादव

AYODHYA NEWS
AYODHYA NEWS

अयोध्या। कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी कार्यालय पर प्रेसवार्ता कर जनपद के फैजाबाद रायबरेली मार्ग जो राष्ट्रीय राज मार्ग 330 A फोरलेन के निर्माण की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है।जिसमें राजमार्ग के बगल में कृषि भूमि आवास व्यवसायिक प्रतिष्ठान को अधिग्रहण किया जा रहा है।सभी लोगों के प्रतिष्ठान मकान आवास एवं तहसील अभिलेखों एवं परिवार रजिस्टर में अंकित है। प्रभावित किसानों व्यापारियों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों को जो मुआवजा शासन प्रशासन द्वारा प्रस्तावित किया गया है। वह मानक के अनुरूप नहीं दिया जा रहा है।जो भूमि अधिग्रहण कानून के नियमों के विपरीत है।

क्या कहा अखिलेश यादव ने

अखिलेश यादव जिलाध्यक्ष ने बताया कि उदाहरण के रूप में जब किसान बैनामा खरीदने जाता है। तो निबंधन कार्यालय भूमि की चौहद्दी जिसमें नाली चौक रोड लिंक रोड हाईवे मुख्य मार्ग तथा व्यापारिक प्रतिष्ठान रहने पर निबंधन कार्यालय में अधिक पैसा स्टांप हेतु जमा कराया जाता है। तो रजिस्ट्री की जाती है यही डीएम सर्किल रेट का आधार माना जाता है। जब सरकार किसानों की भूमि अधिकृत कर रही है तो निबंधन कार्यालय में निर्धारित डीएम सर्किल रेट के आधार पर ना देकर सामान्य दर पर बना मुआवजा प्रस्तावित किया गया है। कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष ने कहा उपरोक्त के संबंध में निम्न बिंदुओं पर ध्यान आकृष्ट कराना चाहते हैं-:

1. 330 A राष्ट्रीय राजमार्ग में भूमि अधिग्रहण मनमाने तरीके से बिना मानक के आधार पर किया जा रहा है।

2. सर्किल रेट का 4 गुना मुआवजा देकर भूमि अधिग्रहण होना चाहिए।

3. व्यापारिक प्रतिष्ठान चकरोड लिंक रोड राजमार्ग के बगल की भूमि कि दर स्वत: बढ़ जाती है।

4. जब हम निबंधन कार्यालय में भूमि क्रय कराने जाते हैं तो सड़क के किनारे दुकानों के बगल चकरोड लिंक रोड के बगल भूमि क्रय करने पर अधिक स्टांप ड्यूटी अदा करनी पड़ती है तो सरकार द्वारा अधिग्रहित की जा रही भूमि पर मुआवजा उस दर का क्यों नहीं दिया जा रहा

5. 1 बीघा से कम जमीन खरीदने पर वर्ग मीटर की दर पर स्टांप व कर जमा कराया जाता है तब बैनामा होता है भूमि अधिग्रहण में सामान्य हेक्टेयर की दर से अधिग्रहण हो रहा है जो न्यायोचित नहीं है

6. इसी प्रकार हवाई पट्टी के लिए अधिकृत की जाने वाली भूमि को मानक के अनुरूप मुआवजा नहीं दिया जा रहा है

7. धर्मपुर में भी मुआवजा देने में अलग-अलग मानक का प्रयोग किया जा रहा है उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी भूमि अधिग्रहण से प्रभावित लोगों की समस्याओं को लेकर उनके साथ खड़ी होकर एक जन आंदोलन के रूप में उनकी लड़ाई लड़ने का काम करेगी प्रथम चरण में भूमि अधिग्रहण से प्रभावित लोगों का हस्ताक्षर अभियान कराकर जिला अधिकारी को ज्ञापन सौंपेगी इसके बावजूद भी अगर प्रभावित लोगों को न्याय नहीं मिला तो कांग्रेस पार्टी न्याय दिलाने के लिए उनके साथ खड़ी होकर लड़ाई लड़ने का काम करेगी।

रिपोर्ट -बिस्मिल्लाह खान

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here