राजघाट से सुप्रीम कोर्ट पहुंचे CJI,18 नवंबर को एसए बोबडे लेंगे शपथ

cji gogoi
image source - google

भारत के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई आज शुक्रवार को राजघाट पहुंचे जहाँ पर उन्होंने राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया इसी महीने 17 नवम्बर को सेवानिवृत्त हो रहे है और आज CJI रंजन गोगोई का भारत के मुख्य न्यायाधीश के रूप में अंतिम कार्य दिवस है। CJI गोगोई के बाद भारत के अगले मुख्य न्यायधीश एसए बोबडे होंगे। महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि देने के बाद CJI गोगोई सुप्रीम कोर्ट जायेंगे जहाँ उन्हें परिसर में विदाई दी जाएगी। 18 नवम्बर को एसए बोबडे मुख्य न्यायाधीश CJI के रूप में शपथ लेंगे।

न्यायाधीश एसए बोबडे

इनका पुरा नाम शरद अरविंद बोबड़े है इनके पिता का नाम अरविन्द बोबड़े है जो की महाराष्ट्र के एडवोकेट जनरल रह चुके है। ये नागपुर के रहने वाले है। एसए बोबडे ने नागपुर यूनिवर्सिटी से बीए और लॉ की डिग्री प्राप्त की इसके बाद बार काउंसलिंग ऑफ महाराष्ट्र को 1978 में ज्वाइन किया। इन्होने लॉ की प्रैक्टिस बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर बेंच में की, फिर 2000 में बॉम्बे हाई कोर्ट के अडिशनल जज बने। शरद अरविंद बोबड़े मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस के पद पर नियुक्त हुए व 2013 में सर्वोच्च न्यायालय के जज बने।