‘द फैमिली मैन’ ,रोजमर्रा जिंदगी से प्रेरित वेब सीरीज

अभी तक जहाँ ऐक्टर्स सिर्फ फिल्मों और टीवी सीरियल्स में काम कर अपनी जगह बनाते थे, वहीं अब एक नयी दुनिया में उन्होंने कदम रखना शुरू कर दिया है। जिसे वेब सीरीज कहते है। अमेज़ॉन प्राइम की आयी नई वेब सीरीज़ ‘द फैमिली मैन’ 20 सितंबर को रिलीज़ की गयी थी।

इस वेब सीरीज़ के पूरे 10 एपिसोड एक साथ जारी कर कर दिया गए है। ऐक्टर मनोज बाजपेयी ने इस वेब सीरीज के जरिये अपना डिजिटल डेब्यू कर लिया है। यह कहानी एक मिडिल क्लास व्यक्ति पर है। जो की एक सीक्रेट स्पाई (जासूस) है। वेब सीरीज हमारी रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़ी घटनाओ पर बेस्ड है।

वेब सीरीज की कास्टिंग

वैसे तो सभी का इस वेब सीरीज में अहम किरदार है। मगर यह कहानी मुख्यता श्रीकान्त से जुडी हुई है। जिनका किरदार मनोज बाजपेयी निभा रहे है। साथ ही उनकी पत्नी सुचित्रा का किरदार प्रियामणि बहुत ही सहजता से निभा रही है। शारीब हाशमी भी जेके तलपड़े के किरदार निभाते नजर आये,जिसके लिए इनकी काफी प्रसंशा की जा रही है।

‘नागिन 3’ की सुरभि ज्योति कर रही बॉलीवुड में डेब्यू

सीरीज में मलयाली एक्टर नीरज माधव मूसा रहमान के किरदार में कमाल के लग रहे हैं , शरद केलकर भी अपनी ऐक्टिंग से इंप्रेस करते नजर आ रहे हैं। इस वेब सीरीज के जरिये काफी समय बाद गुलपनाग भी दिखाई दी हैं और काफी अच्छा काम किया है। सीरीज में हर किरदार ने अपना बेस्ट दिया है।

इसी सीरीज के डायरेक्टर राज और डीके है,जिन्होंने इससे पहले ‘स्त्री’ फिल्म का निर्देशन किया था जिसे काफी पसंद भी किया गया था। इनका कहानी बताने का अपना एक अलग ही स्टाइल है और यही बात इस सीरिज को खास बनाती है।डायरेक्शन करने के साथ ही साथ इन्होंने सुमन कुमार और सुमित अरोरा के साथ मिलकर इस कहानी को लिखा है।

क्या कहानी है इस वेब सीरीज की

कहानी मनोज बाजपेयी के किरदार को लेकर हैं। लेकिन उस बीच सीरीज में कई सारी कहानियां जुड़ती जाती हैं। इस सीरीज में जासूस श्रीकांत तिवारी की पता चलता है कि आतंकवादी 26/11 से एक बड़ा हमला होने वाला है। जिसे श्रीकांत कैसे बचाता है इस कहानी में दिखया गया है। मुंबई से लेकर पाकिस्तान ,ब्लूचिस्तान ,सीरिया ,कश्मीर और आखिर में दिल्ली तक यह कहानी जाती है।

इस सीरीज से पहले अमेजन प्राइम ने हिंदी सीरीज ‘ब्रीद’ और ‘मिर्जापुर’ रिलीज की थी,और ये दोनों ही सीरिज बहुत पॉपुलर हुई। इन सिरजो में भाषा से लेकर डायलॉग्स तक में रोज मर्रा की बातों का इस्तेमाल किया गया था। ‘द फैमिली मैन’ में भी इसी बात पर फोकस करते हुए लोगो को बहुत ही आसान तरीके से समझाया गया है कि इंटिलिजेंस एजेंसी कैसे काम करती है।