केंद्र की भाजपा सरकार इस ऐप के जरिये निकाल रही पर्सनल डेटा

AAROGYA-SETU
AAROGYA-SETU

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना ने विश्व भर में हाहाकार मचा रखा है। लेकिन अभी तक कोई भी देश कोविड-19 के संक्रमण की दवाई बनाने में सफलता प्राप्त नही कर सका है। वही भारत सरकार ने कोरोना काल की शुरुआत में ही कोरोना संक्रमण से बचाव एवं संक्रमित व्यक्ति से दूरी के एलर्ट प्राप्ति के लिए आरोग्य सेतु एप्लिकेशन को समस्त देशवासियों को इस्तेमाल करने की सलाह दी थी। लेकिन भारत सरकार की यह ऐप ने कोरोना संक्रमण को रोकने में लगातार नाकाम साबित हुई और भारत कोरोना संक्रमण प्रभावित देशों में नंबर दो पर पहुँच चुका है।

आरोग्य सेतु ऐप पर उठा बड़ा सवाल 

भारत सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं संक्रमित व्यक्तियों से दूरी बनाए रखने के लिए आरोग्य सेतु एप का इस्तेमाल करोड़ों लोगों द्वारा किया गया और इसमें मांगी गई अपनी संपूर्ण गोपनीय जानकारियों को भी शेयर किया गया। आखिर संपूर्ण गोपनीय जानकारियां होने के बावजूद इस ऐप ने कोरोना संक्रमण को क्यों नहीं  रोका।

अगर कोई ऐप कोरोना संक्रमण को रोकने में कामयाब होता तो इस ऐप का इस्तेमाल विश्व के हजारों देशों द्वारा किया जा रहा होता और कोरोना संक्रमण से हो रही लगातार मौतों को रोका जा सकता।

इस एप के जरिये निकाला सरकार ने आपका पर्सनल डेटा 

इस ऐप के जरिए सिर्फ जनता की गोपनीय जानकारियों को भारत सरकार द्वारा अपने डाटा रिकॉर्ड में सुरक्षित कर लिया गया। इससे प्रत्येक व्यक्ति की गोपनीय जानकारी से लेकर उसके अकाउंट और उसकी बायोमेट्रिक भी सरकार के खाते में सुरक्षित हो रही है आखिर भारत सरकार इस ऐप के जरिए प्रत्येक व्यक्ति का डाटा क्यों सुरक्षित कर रही है। इस बात पर संदेह होना वाजिब है। आखिर भारत सरकार देश की 130 करोड़ की जनता का पर्सनल डाटा क्यों सेव कर रही है और वह इसका क्या इस्तेमाल करेगी।

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने साधा आरोग्य सेतु ऐप पर निशाना 

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कोरोना काल में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की भाजपा सरकार के राज में कोरोना संक्रमण के मामले में भारत विश्व में दुसरे नंबर पर आ गया है। कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलो  ने   भाजपा सरकार सरकार की पोल खोल दी है।

भाजपा सरकार के आरोग्य सेतु एप पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा की सरकार ने भारत की जनता की सम्पूर्ण गोपनीय जानकारी इस एप के जरिये अपने रिकॉर्ड में सुरक्षित तो कर ली लेकिन जनता को कोरोना संक्रमण से राहत देने में नाकाम रही।

 

 

 

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 1 =