प्रियंका रेड्डी पर तेलंगाना के गृह मंत्री का बेतुका बयान

priyanka reddi
image source - google

एक महिला वेटनरी (जानवरों की डॉक्टर) डॉक्टर की बुधवार को रेप और हत्या कर दी गयी थी। इस दुःखद घटना पर तेलंगाना के गृहमंत्री मोहम्मद मेहमूद अली ने बेतुका बयान दिया है। मोहम्मद मेहमूद अली ने कहा की महिला पढ़ी लिखी थी उसे अपनी बहन को कॉल करने की जगह पुलिस को कॉल करना चाहिए था। इस बयान के बाद तेलंगाना गृहमंत्री मोहम्मद की आलोचना होने लगी जिसके बाद उनको अपनी सफाई देनी पड़ी। अपनी सफाई में मोहम्मद ने कहा की ‘मैं दुखी हूं। वह मेरी अपनी बेटी की तरह थी। दोषी को कड़ी सजा दी जाएगी। जब मैं उसके माता-पिता से मिला, तो मेरी आंखों से भी आंसू बह निकले।’ आगे गृहमंत्री मोहम्मद ने कहा की पुलिस सतर्क है और अपराध को नियंत्रित कर रही है। महिला ने अपनी बहन को बुलाया अगर वो पुलिस को बुलाती तो बच जाती।

केजीएमयू की अच्छी व्यवस्थाओं के सभी दावे हुए फेल

बता दें 27 वर्षीय प्रियंका रेड्डी वेटनरी डॉक्टर थी जो बुधवार को कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय गई थी। उन्होंने अपनी स्कूटी को पार्किंग में खड़ा कर दिया था। रात को जब वो अपने घर जाने के लिए निकली तो उन्होंने देखा की उनकी स्कूटी पंचर है। इसकी जानकारी उन्होंने सबसे पहले अपनी बहन को दी और कहा की मुझे डर लग रहा है। प्रियंका रेड्डी की बहन ने उन्हें कैब से घर आने को कहा। प्रियंका ने बताया की कुछ लोग मदद करने आये हैं। मै कुछ समय बाद कॉल करती हूँ। इसके बाद उनका फोन ऑफ हो गया और परिवार वालों ने तलाश शुरू की,अगले दिन शादनगर के अंडरपास के समीप प्रियंका रेड्डी की जाली लाश मिली।