एफएटीएफ पाकिस्तान की किस्मत का फैसला आज करेगा

आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग मामले में फसे पाकिस्तान पर फैसला आज एफएटीएफ करेगा। बता दें कुछ दिनों पहले ही पाकिस्तान को एफएटीएफ ने ग्रे लिस्ट में फरवरी 2020 तक डाल दिया था। आज आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा की जा सकती है। पाकिस्तान को पहले ही चेतावनी दी गयी थी की अगर पाक ने आतंकी फंडिंग नहीं रोकी तो उसे ब्लैक लिस्ट किया जा सकता है, पर आदत से मजबूर पाक ने आतंकियों पर कोई कार्यवाही नहीं की जिसकी वजह से पाक को ग्रे लिस्ट में डाला गया है। अगर पाक नहीं सुधरता है तो उसे ब्लैक लिस्ट भी किया जा सकता है।

इन देशों की वजह से बच सकता है पाक

एफएटीएफ के नियमानुसार किसी देश को ब्लैक लिस्ट से बचने के लिए तीन देशों का समर्थन होना आवश्यक होता है और पाक को मलयेशिया, तुर्की और पाक का सदाबहार दोस्त, चीन से समर्थन मिला हुआ है। ऐसे में हो सकता हैं की पाकिस्तान ग्रे लिस्ट से ब्लैक लिस्ट में जाने से बच जाये पर समर्थन देने वाले देश भी पाक की असलियत जानते है की वो किस तरह आतंकियों को पालता-पोस्ता है।

पाकिस्तान की बढ़ी मुश्किलें,एफएटीएफ ने डाला ग्रे लिस्ट में

पाक रहा असफल

एफएटीएफ ने पाकिस्तान को काफी समय दिया था, मनी लॉन्डरिंग और आतंकी फंडिंग पर रोक लगाने के लिए पर पाक असफल रहा और एफएटीएफ द्वारा दिया गया समय अक्टूबर में समाप्त हो गया है और पाक को ग्रे लिस्ट में डाल दिया गया था। उसी की आधिकारिक तौर पर घोषणा आज हो सकती है। बता दें अगर पाक ब्लैक लिस्ट होता है तो उस पर कई तरह के प्रतिबन्ध लग सकते है।