महिला सुरक्षा के दावे फेल, नाबालिक छात्रा के साथ छेड़छाड़

source - google

भाजपा की केंद्र और प्रदेश सरकार महिला सुरक्षा के दावे कर रही है लेकिन डिप्टी सीएम डा० दिनेश शर्मा के प्रभार जिले रायबरेली में महिला सुरक्षा के दावे दम तोड़ते दिखाई दे रहे हैं। जिसके चलते एक छात्रा शोहदे के आतंक से इतना भयभीत है कि छात्रा ने स्कूल जाना छोंड दिया है।

शोहदे के आतंक से तंग आकर इंटर की नाबालिक छात्रा ने स्कूल जाना छोड़ दिया है। फिलहाल पीड़िता के परिजनों ने थाने में आरोपी शोहदे के विरुद्ध तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है। अब ऐसे में पढेंगी बेटियां और बढ़ेंगी बेटियां का नारा भी रायबरेली में दम तोड़ रहा है। दरअसल रायबरेली जिले के सरेनी थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने छात्रा अपने ननिहाल में रहकर कस्बे के एक विद्यालय में इंटर में पढ़ती है।

छात्रा का आरोप है कि उसके ननिहाल का एक युवक उसको प्रतिदिन छेंडछाड करता था और किसी से बताने पर चाकू व कट्टा दिखाता था। इससे तंग आकर छात्रा ने स्कूल छोड़ दिया। यही नही आरोपी शोहदे ने बीती रात अश्लील पत्रों का पुलिंदा सरेनी-भोजपुर मार्ग पर छात्रा के दरवाजे और रिश्तेदारी में बिखेर दिया।

SC/ST Commission कर रही लोगो की दिक्कतों का समाधान

सुबह लोगों ने देखा तो हड़कंप मच गया। छात्रा व उसकी मां जब शोहदे के घर उलाहना देने पहुंची तो युवक के माता-पिता ने गाली गलौज कर मार डालने की धमकी देकर भगा दिया। जिसके बाद पीड़िता अपने परिजनों के साथ थाने पहुँची और आरोपी के विरुद्ध शिकायती पत्र देकर कार्यवाही की मांग की है। पीड़िता का आरोप है कि वह बेवते एक माह से लगातार शोहदे से परेशान चल रही है जिस कारण वह अब स्कूल भी नही जा रही है। अगर यही हाल रहा तो वह अब पढ़ाई भी छोड़ देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here