पहली बार देर से आई तेजस , यात्रियों को मिलेगा रिफण्ड

tejas express
image source - google

● तेजस ट्रेन पहली बार पहुंची देर से
● ट्रेन अपने समय से लगभग तीन घंटे देरी से पहुंची
● ट्रेन के लेट होने के कारण यात्रियों को जायेगा मुआवजा

देश की पहली कारपोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस पहली बार देरी से पहुंची बता दें की तेजस ट्रेन अपने तय समय के मुताबिक सुबह (6: 10) बजे लखनऊ से चलकर (12:25) बजे नई दिल्ली पहुंचती है। लेकिन शनिवार को यह ट्रेन लखनऊ से (8:55) मिनट पर चली, और (03:40) मिनट पर दिल्ली पहुंची।लखनऊ जंक्शन पर गुरूवार रात कृषक एक्सप्रेस के दो कोच डिरेल होने से शुक्रवार सुबह तक ट्रेनों का संचालन अस्त-व्यस्त रहा इस कारण से शुक्रवार सुबह तक ट्रेनों का संचालन अस्त व्यस्त रहा। इस कारण तेजस ट्रेन को समय पर पहुँचने में देरी हो गई। लेकिन तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों के लिए सबसे अच्छी खबर ये है कि ट्रेन के लेट होने के कारण इन यात्रियों को रेलवे मुआवजा भी देगा। बता दें की ऐसा देश में पहली बार ऐसा होने जा रहा है की जब किसी ट्रेन के लेट होने पर यात्रियों को मुआवजा दिया जा रहा है।

ट्रेन के लेट होने पर इतना दिया जायेगा मुआवजा

बता दें की इस ट्रेन को लेकर आईआरसीटीसी ने फैसला किया था कि अगर ट्रेन लेट होती है तो यात्रियों को मुआवजा मिलेगा। इसके साथ ये भी फैसला लिया गया था कि तेजस अगर एक घंटे से ज्यादा देर होती है तो यात्रियों को 100 रुपए का मुआवजा मिलेगा और अगर ट्रेन 2 घंटे से ज्यादा लेट हुई तो यात्रियों को 250 रुपए का मुआवजा मिलेगा। बता दे की तेजस ट्रेन आपने समय से लगभग 3 घंटे लेट हो गई।इसलिए आईआरसीटीसी के द्वारा किये गए मुआवजे के फैसले के मुताबिक यात्रियों को 250 रुपए का मुआवजा मिलेगा।

तेजस एक्सप्रेस का टाइम टेबल जारी, इस ट्रेन में मिलेंगी प्लेन जैसी सुविधाएं

यात्रियों के मोबाइल पर भेजा रिफण्ड लिंक

रेलवे विभाग की जानकारी के मुताबिक बता दें की इस ट्रेन से लखनऊ से दिल्ली आने वाले यात्रियों की संख्या 451 थी। वहीं दिल्ली से 500 लोगों ने ट्रेन का टिकट कराया था।आईआरसीटीसी के चीफ रीजनल मैनेजर अश्विनी श्रीवास्तव ने बताया कि तेजस ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्रियों के मोबाइल पर लिंक भेज दिया गया है। वे सभी मुआवजे के लिए इस लिंक पर जाकर क्लेम कर सकते हैं। आईआरसीटीसी के प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह ने तेजस के लेट होने की सूचना मिलते ही सभी तेजस एक्सप्रेस में मौजूद सभी यात्रियों से खेद जताया। उन्हें एक्स्ट्रा चाय-कॉफी और अन्य रिफ्रेशमेंट दिया गया। इस पर लिखा था सॉरी फॉर डिले