गोमतीनगर के आवासीय जमीन पर बने शो रूम को किया गया सील

lucknow news
google

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के विकास प्राधिकरण ने गोमतीनगर के विवेक खण्ड स्थित एक चिकित्सक का अवैध रूप से बना शो रूम सील कर दिया। सूत्रों के मुताबिक इस शोरूम का न तो नक्शा पास किया गया था और न ही भू उपयोग का परिवर्तन हुआ था। इतना ही नहीं इसके साथ साथ तीन अन्य भवनों को भी सील किया गया है। इस दौरान एलडीए को विरोध का सामना करना पड़ा लेकिन पुलिस बल की मौजूदगी के कारण कार्यवाही पर कोई असर नहीं पड़ा।

जानकारी के मुताबिक गोमती नगर के विवेक खण्ड स्थित भूखण्ड संख्या-4/43 पर एक आंख के बड़े चिकित्सक डॉ. राजेश भाटिया का आवासीय भूखण्ड पर दो वर्ष पहले शोरूम बना था। इसमें दो अन्य भूखण्डों को भी शामिल कर लिया गया है। केन्द्रीय विद्यालय के सामने बना यह शो रूम 300 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में है।

कई बड़े लोगों से संबंध होने के कारण कार्यवाही नहीं हो पाई थी

एलडीए ने कई बार भवन स्वामी को नोटिस भेजा लेकिन कई बड़े लोगों से संबंध होने के कारण कार्यवाही नहीं हो सकी। पिछले वर्ष 19 दिसम्बर को विहित प्राधिकारी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया था। लेकिन नोटिस को नजरदांज करते हुए शोरूम बनकर खड़ा हो गया। विहित प्राधिकारी ने बीते महीने की 28 फरवरी को शोरूम सील करने का आदेश दिया। गुरुवार को पुलिस बल के साथ पहुंची एलडीए की प्रवर्तन टीम ने इसे सील कर दिया है।

तीन अन्य भवनों को भी किया गया सील

इसके साथ ही गोमतीनगर के विरामखण्ड स्थित भवन संख्या 1/330 में अनूप श्रीवास्तव अवैध रूप से व्यावसायिक निर्माण करवा रहे थे। एलडीए ने कई बार उन्हें भी काम बंद करने की नोटिस भेजी थी लेकिन उस नोटिस का उनपर कोई असर नहीं हुआ और उनका काम लगातार जारी रहने पर विहित प्राधिकारी ने निर्माण को सील करने का आदेश दे दिया।

Coronavirus : UP सरकार ने इन शहरों को सैनिटाइज़ करने का लिया फैसला

बार बार नोटिस भेजने पर भी जारी रहा कार्य

इसी के साथ गुरुवार को प्रवर्तन जोन एक की टीम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंची और निर्माण को सील कर दिया। इसके अलावा विरामखण्ड में प्रदीप कुमार अग्रवाल के भूखण्ड संख्या 4/447 पर गैराज चल रहा था। आवासीय भूखण्ड पर व्यावसायिक उपयोग होने पर गैराज को सील कर दिया गया है।इसके साथ ही गोमती नगर विस्तार के सेक्टर-एक में महेश प्रसाद भूखण्ड संख्या-1/809 पर अवैण निर्माण करवा रहे थे। निर्माण कार्य बंद करने की नोटिस के बाद भी काम जारी रहने पर विहित प्राधिकारी ने सीलिंग का आदेश दिया। गुरुवार को एलडीए की प्रवर्तन टीम ने निर्माण को सील कर दिया है।

About Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here