Hathras: पुलिस का अमानवीय चेहरा, कटघरे में शासन और प्रशासन

hathras rape case
image source - google

हाथरस दुष्कर्म मामले में पुलिस का अमानवीय चेहरा देखने को मिला है। पुलिस पर आरोप है कि परिवार की अनुमति के बिना ही रात में करीब 2:30 बजे पीड़िता के शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। इससे पूरा परिवार दुखी है और न्याय की मांग कर रहा है। वहीं इस मामले पर अब विपक्ष ने योगी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है।

समाजवादी पार्टी का सरकार पर हमला 

हाथरस दुष्कर्म के मामले पर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता व पूर्व मंत्री अभिषेक मिश्रा ने कहा की सरकार का इतना भी रसूख नहीं बचा, ऐसे कौन से वे लोग थे। जिनको इतना विश्वास था कि वह कुछ भी करें ऐसी सरकार है कि उनका कुछ भी नहीं होगा जो उन्होंने इतनी बड़ी दुर्दांत घटना को अंजाम दे दिया।

बच्ची ने इतना अन्याय और अत्याचार सहा इसके बाद भी उसका सही से इलाज नहीं किया गया। समाजवादी पार्टी ने लगातार तहसील में, जिले में धरना दिया और लॉ एंड ऑर्डर के खिलाफ गवर्नर को ज्ञापन दिया। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

पुलिस ने परिवार की इच्छा नहीं होने दी पूरी

अभिषेक मिश्रा ने आगे कहा कि उस बच्ची की मौत हो गई और उसकी मां झोली फैला कर कह रही है कि वो अपनी बच्ची की विदाई अपने दरवाजे से करना चाहती है और पुलिस ने वह भी नहीं होने दिया।

सरकार के दबाव में रात 2:30 बजे पुलिस ने अंतिम संस्कार करा दिया। जो कि धर्म के खिलाफ है, क्योंकि सूरज डूबने के बाद अंतिम संस्कार नहीं किया जाता। आखिर पुलिस कौन सी चीज छुपा रही है। परिवार का कहना है कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट भी गलत दी गई है।

हाथरस: रेप पीड़िता की मौत, पूरा देश आक्रोश में अक्षय कुमार ने भी…

उत्तर प्रदेश का निर्भया कांड बनेगा

परिवार और गांव वालों ने रात में अंतिम संस्कार होने से रोकने का प्रयास किया और पुलिस ने धक्का देकर उनको हटा दिया। आखिर उत्तर प्रदेश की सरकार क्या छुपाना चाह रही है। यह उत्तर प्रदेश का निर्भया कांड बनेगा।

इस घटना से हर धर्म और समाज के लोग गुस्से में हैं सभी माता-पिता आज इस बात से चिंतित हैं कि आज उसकी बेटी सुरक्षित है या नहीं। सरकार पूरी तरह फेल हो गई है। लॉ एंड ऑर्डर ढह चुका है। उत्तर प्रदेश में जंगलराज आ गया है। अभिषेक मिश्रा ने कहा मैं और पूरा उत्तर प्रदेश मांग करता है कि यह सरकार इस्तीफा दे या माननीय राष्ट्रपति जी सरकार को बर्खास्त करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here