Rocket Women Ritu Karidhal कर रही है Chandrayaan 3 मिशन को लीड

    Rocket Women Ritu Karidhal
    Rocket Women Ritu Karidhal

    ISRO ने 14 जुलाई 2023 को सफलतापूर्वक Chadrayaan 3 को लांच कर दिया है जो चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर जानकारी प्राप्त करने के लिए भेजा गया है। Chadrayaan 3 सतीश धवन स्पेस सेण्टर श्री हरिकोटा आँध्रप्रदेश से लांच किया गया है। लेकिन सबसे खास बात ये है की इस मिशन को फ्रंट से लीड कर रही है लखनऊ की Rocket Women Ritu Karidhal  नाम से मशहूर स्पेस साइंटिस्ट रितु कारीधल श्रीवास्तव है।

    अगर भारत इस मिशन में कामयाब होता है रूस चीन और अमेरिका के बाद भारत विश्व का चौथा देश होगा। और चन्द्रमा के साउथ पोल पर पहुंचने वाला विश्व का पहला देश होगा।

    कौन है लखनऊ की राकेट वीमेन रितु श्रीवास्तव

    इस Chadrayaan 3 मिशन को लखनऊ की रहने वाली Ritu Karidhal लीड कर रही है भारत की “Rocket Women Ritu Karidhal” के रूप में लोकप्रिय रितु श्रीवास्तव लखनऊ से हैं। उनका एक प्रभावशाली ट्रैक रिकॉर्ड है, वह मंगलयान मिशन का हिस्सा रही हैं और मंगल मिशन के उप निदेशक के रूप में कार्यरत हैं।

    रितु श्रीवास्तव एयरोस्पेस के विशेषज्ञ हैं, जिन्होंने बेंगलुरु के प्रतिष्ठित भारतीय विज्ञान संस्थान से अध्ययन किया है। उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से भौतिकी में स्नातक की डिग्री हासिल की। बाद में, उन्होंने भारतीय विज्ञान संस्थान (IISC) से एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में ME की उपाधि प्राप्त की।

    बचपन से ही थी अंतरिक्ष विज्ञानं में रूचि

    Rocket Women Ritu Karidhal ने ISRO को 1997 में ज्वाइन किया था वो Chadrayaan 2 की मिशन डायरेक्टर भी रह चुकी है वो करीब 20 जर्नल्स प्रकाशित करती है नेशनल व इंटरनेशनल पत्रिकाएं प्रकाशित करती है। बड़े होने पर, उनके पास इसरो और नासा के पेपर कटिंग का संग्रह था। रितु करिधल की हमेशा से अंतरिक्ष में रुचि रही है और उनका लक्ष्य कुछ अनोखा करने का रहा है।

    करियर में कई उपलब्धिया हासिल की

    इसके अलावा, उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम द्वारा इसरो यंग साइंटिस्ट अवार्ड, इसरो टीम अवार्ड फॉर एमओएम (2015 ), ‘ASI Team Award’, ‘वीमेन अचीवर्स इन एयरोस्पेस’ (2017) जैसे कई पुरस्कार भी अपने नाम किए हैं।

    About Author

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    17 − 1 =