नर्स से अभद्रता करना एक कोरोना मरीज को पड़ा महंगा

custody
Google

इस समय देश कोरोनावायरस जैसी महामारी से लड़ रहा है और इसमें सबसे आगे डॉक्टर, नर्स और मेडिकल स्टाफ है। ये दिन-रात मरीजों का इलाज कर रहे हैं। इनका सम्मान करने की जगह कुछ मरीज डॉक्टर और नर्सों का अपमान कर रहे हैं। ऐसी ही एक घटना वाराणसी के दीनदयाल अस्पताल की है। जहां पर आइसोलेशनवार्ड में भर्ती कोरोनावायरस का एक मरीज, इलाज कर रहे डॉक्टर और नर्सों को छोटी-छोटी बात के लिए परेशान करता रहता था और समझाने के बाद भी नहीं मानता था।

तबलीगी जमात पर टिप्पणी करने वाले युवक को मार दी गोली, सीएम योगी ने लिया मामले का संज्ञान

रविवार को डीएम कौशल राज शर्मा उनके साथ कमिश्नर दीपक अग्रवाल और एसएसपी प्रभाकर अस्पताल का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे थे। वे कोरोना वायरस के मरीजों के बारे में डॉक्टरों, नर्सों से जानकारी ले रहे थे।‌ इसी बीच नर्सों ने उस कोरोना मरीज की शिकायत कर दी। जो उनको अक्सर परेशान करता रहता था।

प्रतिदिन बढ़ रही संक्रमित लोगों की संख्या, 9 राज्यों में सबसे ज्यादा…

इसके बाद डीएम कौशल राज शर्मा उस कोरोना मरीज से मिलने पहुंचे और डीएम ने उसको समझाया और मेडिकल स्टाफ को इलाज में सहयोग करने को कहा पर वह उनसे बहस करने लगा। जब डीएम कौशल राज ने देखा कि वह बार-बार समझाने के बाद भी समझ नहीं रहा है, तो डीएम ने पुलिस को कोरोना के उस मरीज को गिरफ्तार कर सेंट्रल जेल भेजने का निर्देश दे दिया। बता दें कोरोनावायरस का यह मरीज आबुधाबी से भारत आया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here