ममता बनर्जी : NRC और CAA को वापस ले नहीं तो…

mamta banerjee
image source - google

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर NRC और CAA का कड़ा विरोध किया है। कोलकाता में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी बोली की ‘देश अमित शाह न केवल बीजेपी के नेता है बल्कि देश के गृह मंत्री भी है। इसलिए देश में शांति बनाये रखे। अपने (बीजेपी) ने सबका साथ सबका विकास नहीं बल्कि सबका सर्वनाश किया है। CAA और NRC को वापस ले ,वरना मई देखूंगी की आप इसको यहाँ (पश्चिम बंगाल) में कैसे लागू करते है’। बता दें कल भी ममता बनर्जी ने ऐसा ही कुछ बयां दिया था। कल एक रैली के दौरान ममता बोली की हम National Register of Citizens और Citizenship Amendment Act का तबतक विरोध करेंगे जबतक इसको वापस नहीं लिया जाता। मै बंगाल में इसे लागू करने की अनुमति कभी नहीं दूंगी। अगर इसके बाद भी इसे लागू करना चाहते है तो इसको मेरे मृत शरीर पर करना होगा।

CAA : राष्ट्रपिता और नेहरू के वादे को कांग्रेस ने आज तोड़ा

मालूम हो की CAA में नागरिकता दी जा रही है और इसका भारत के मूल निवासियों से कोई सम्बन्ध नहीं है। इस बात को पूरा विपक्ष भली भांति जनता है। इसके बाद भी लोगों को गुमराह किया जा रहा है। पीएम मोदी ने कल झारखण्ड में एक रैली के दौरान कहा था की ये बात पत्थर की लकीर है की CAA से किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। चाहे वो हिन्दू हो या मुस्लिम किसी को डरने की जरुरत नहीं है। वहीँ गृह मंत्री अमित शाह ने छात्रों से अपील किया था की प्रदर्शन करने से पहले नागरिकता संशोधन नियम के बारे में एक बार पढ़ ले। पढ़ने के बाद भी यदि उनको लगता है की इस बिल में उनके साथ अन्याय हो रहा है तो वो बोले।