लखनऊ : तीन साल में कम हो गयी हैं अपराध की घटनाएं

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने तीन सालों के क्रिमिनल रिकॉर्ड का आंकड़ा जारी किया है। इस क्राइम आंकड़े में हत्या, डकैती, बलवा तथा लूट के मामलों को रखा गया है। रिपोर्ट के अनुसार साल 2018 में लखनऊ में अपराध के आंकड़े में कमी आयी है।

पुष्पेंद्र के भाई को डीएम व एसएसपी की धमकी

ये हैं तीन साल के क्राइम आंकड़े

  • वर्ष 2017 : एसएसपी के अनुसार साल 2017 में 94 हत्याओं की घटनाएं हुई थीं जबकि 10 डैकेती की वारदातें सामने आयी थीं। इसी साल 62 लूट की और 197 बलवा की घटनाएं हुई थीं।
  • वर्ष 2018 : इस साल क्राइम के आंकड़े कम हुए हैं। एसएसपी के अनुसार हत्या के कुल 90 मामले दर्ज किये गए तथा 30 लूट की घटनाएं हुईं। जबकि 4 डकैती तथा 131 बलवा की वारदातें पेश आयीं थीं।
  • वर्ष 2019 : एसएसपी कलानिधि नैथानी ने रिपोर्ट जारी करते हुए बताया कि साल 2019 में हत्या की 73 वारदातें हुई हैं। रिपोर्ट में 21 लूट के मामले दर्ज किये गए हैं जबकि 3 डकैती की वारदातें और 75 बलवा की घटनाएं हुई हैं।