यूपी एटीएस ने गिरफ्तार किया अवैध धर्मांतरण सिंडिकेट

Source - Google

मुजफ्फरनगर निवासी से अवैध धर्मांतरण का देशव्यापी सिंडिकेट चलाने के आरोपी प्रसिद्ध इस्लामिक विद्वान मौलाना कलीम सिद्दीकी को यूपी एटीएस ने मेरठ से गिरफ्तार किया है। जांच में तथ्य सामने आए कि मौलाना कलीम सिद्दिकी अवैध धर्मांतरण के कार्य में लिप्त है और विभिन्न प्रकार की शौक्षणिक, सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं की आड़ में यह देशव्यापी स्तर पर किया जा रहा है।

इसके लिए विदेशों से भारी फंडिंग प्राप्त की जा रही है, जो सुनियोजित तरीके से संगठनात्मक रूप से किया जा रहा है। इसमें देश के कई नामी लोग और संस्था शामिल हैं। तथ्य प्रमाणित हुआ है कि यह भारत का सबसे बड़ा धर्मांतरण सिंडिकेट संचालित करता है। गैर मुस्लिमों को गुमराह करके डराकर धर्मांतरित किया जाता है।

अभी तक की जांच के अनुसार मौलाना के ट्रस्ट के खाते में एकमुश्त 1.5 करोड़ रुपया बहरीन से आया है। अब तक की जांच से कुल 3 करोड़ रुपये की फंडिंग के साक्ष्य प्राप्त हुए हैं। बीती रात लगभग 9 बजे मौलाना कलीम सिद्दिकी को उत्तर प्रदेश एटीएस ने मेरठ से गिरफ्तार किया है।

मौलाना कलीम जामिया इमाम वलीउल्ला नामक एक ट्रस्ट संचालित करता है। वह कई मदरसों की फंडिंग भी करता है जिसके लिए उसे विदेशों से भारी धनराशि हवाला के जरिए भेजी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here