कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की कमेटी किया घोषित, लल्लू को UP कांग्रेस की कमान

  • मुस्लिम लगभग 15% नेतृत्व करेंगे जिसमे पसमांदा मुस्लिम कयादत पर दिया गया है ज़ोर
  • दलित आबादी 20% का करेंगी नेतृत्व, साथ अन्य जातियों को भी दिया गया है अवसर
  • ओबीसी वैश्य समाज से अजय कुमार लल्लू को बनाया गया है कमेटी का अध्यक्ष

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ने कमेटी घोषित कर दी है जिसमे ओबीसी वैश्य समाज से अजय कुमार लल्लू को अध्यक्ष बनाया गया है। अजय कुमार लल्लू तमकुहीराज से दो बार विधायक रह चुके हैं। पिछली बार कांग्रेस कमेटी में 500 लोग थे लेकिन इस बार सिर्फ 40-45 लोग हैं जिसमे पहले से ही सभी की जवाबदेही और ज़िम्मेदारी तय कर दी गई है। कमेटी में युवाओं को मौका दिया गया है जबकि 18  वरिष्ठ नेताओं की सलाहकार समिति बनाई गई है जिन्हें युवाओं का मार्गदर्शन करने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है और इसकी अध्यक्षता कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी खुद करेंगी। इसके अलावा 8 सदस्यों का एक रणनीति ग्रुप भी बनाया गया है जिसमे अनुभवी नेताओं को रखा गया है।

45% पिछड़ी जातिया करेंगी प्रतिनिधित्व

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने 45% पिछड़ी जातियों को प्रतिनिधित्व सौंपा है और अतिपिछड़ी जातियों पर ज़्यादा ध्यान देने को कहा गया है। दलित आबादी को 20% का नेतृत्व करने को कहा गया जिसमे प्रभुत्वशाली दलित जातियों के साथ अन्य जातियों को भी नेतृत्व का अवसर दिया गया है। मुस्लिम लगभग 15% नेतृत्व करेंगे जिसमे पसमांदा मुस्लिम कयादत पर ज़ोर दिया गया है। स्वर्ण जातियां 20% का नेतृत्व करेंगी। महिलाओं को भी उचित प्रतिनिधित्व दिया गया है।

प्रियंका की तीन दिवसीय पाठशाला में कांग्रेसी करेंगे पढ़ाई

चार महीने मंथन करने के बाद बनाई गई कमेटी

कांग्रेस पार्टी लगभग 4 महीने से उत्तर प्रदेश की कमेटी बनाने के लिए मंथन कर रही थी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी ने खुद उत्तर प्रदेश के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक किया और सलाह लिया। वह टीम के साथ कई ज़िलों में घूम कर हर चीज़ की ज़मीनी पड़ताल करती रहीं। जिसके बाद कमेटी का गठन किया गया। कमेटी में जनाधार वाले संघर्षशील कार्यकर्ताओं को जगह दी गई है जिसमे कई नए चेहरे शामिल हैं। पार्टी के गठन से लग रहा है कि उत्तर प्रदेश की सड़कों पर जनांदोलन किये जाएंगे।