SC-ST Commission के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष बने..

up sc-st commission

यूपी आगामी विधान सभा चुनाव को देखते हुए योगी सरकार ने (SC-ST Commission) उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष कि नियुक्तियों के लिए आदेश जारी किया था और अब इन पदों पर नियुक्ति हो चुकी है।

उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के अध्यक्ष डा. रामबाबू हरित और दो उपाध्यक्ष मिथिलेश कुमार और राम नरेश पासवान ने आज इन्दिरा भवन स्थित आयोग में पदभार ग्रहण किया। पदभार ग्रहण के बाद आयोग के अध्यक्ष डा. रामबाबू हरित ने कहा कि हमारी सरकार का मकसद है सबका साथ सबका विकास। इसी वाक्यसूत्र पर आयोग काम करेगा। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास होगा कि समाज के दबे कुचले व सोशित को त्वरित न्याय मिले।

पीएम ने कोविड-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम का किया शुभारंभ

वहीं आयोग के उपाध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने कहा कि दलित समाज आर्थिक रुप से इतना सक्षम नहीं होता कि वह लखनऊ आयोग के चक्कर लगा सके। इसलिए आयोग की ओर से उनकी शिकायतें दर्ज करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था की गई है। पीड़ित अपनी शिकायतें ऑनलाइन भी भेज सकते हैं, जिस पर तुरन्त कार्यवाही की जाएगी।

SC-ST Commission के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के अलावा मनोज सोनकर, श्रवण गोंड सदस्य, अमरेश चंद्र, किशनलाल, केके राज गीता प्रधान, ओपी नायक, रमेश तूफानी सदस्य. राम सिंह वाल्मीकि, कमलेश पासी, तीजाराम सदस्य शेषनाथ आचार्य, अनीता सिद्धार्थ, राम आसरे सदस्य श्याम अहेरिया सदस्य बनाए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here