LIU के अधिकारी के प्रेस कॉन्फ्रेंस में आने पर भड़के अखिलेश

LIU
google

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एलआईयू (LIU) के अधिकारी के उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस में आने पर भड़क उठे। पार्टी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके अखिलेश यादव ने अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा कि आखिर किसकी मर्ज़ी से एलआईयू के अधिकारी को भेजा गया। यह अधिकारी किसी और नहीं बल्कि पत्रकार के साथ पार्टी कार्यालय में पत्रकार का कैमरा लेकर पहुंचा हुआ था।

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि “सरकार बताये कि समाजवादी पार्टी कार्यालय में आयोजित राष्ट्रीय अध्यक्ष जी की प्रेसवार्ता में LIU का व्यक्ति किस अधिकारी के कहने पर भेजा गया था?”। इसके अलावा उन्होंने नागरिकता संशोधन क़ानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन करने पर समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के करीबियों की गिरफ्तारी को लेकर कहा कि आजम खान को जान बूझकर परेशान किया जा रहा है। रविवार को पुलिस ने जिया अहमद ओर फैजान को गिरफ्तार किया था। यह लोग सपा सांसद आजम खान के करीबी बताए जा रहे हैं।

नागरिकता संशोधन बिल को लेकर अखिलेश यादव ने किया ट्वीट

अखिलेश यादव ने आरोप लगते हुए कहा कि पुलिस रामपुर में बेकुसूर लोगों को गिरफ्तार कर रही है। उत्तर प्रदेश में जितने लोग मारे गए हैं वह पुलिस की गोली से मरे हैं और यह सब सरकार के इशारे पर किया गया है। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के पास से 15 तमंचे, दर्जन भर कारतूस और 1 पिस्टल बरामद किया है। साथ ही बवाल में शामिल 110 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया है और 31 लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है।